Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
3 Nov 2023 · 1 min read

मेहबूब की शायरी: मोहब्बत

मेहबूब की शायरी: मोहब्बत
*********G2R***********

मीठा मीठा इंतज़ार मिला,
जब एक सच्चा यार मिला।
दिल को मिला बड़ा सुकून,
प्यार को जब प्यार मिला।।

******📚******

तुमने चाहत की दूरी मिटा दी,
मेरी सारी मजबूरी मिटा दी।
दिया इतना प्यार मुझे तुमने,
तन्हाई दिल की पूरी मिटा दी।।

********📚********

ख्वाबों में भी हमने बुलाया तुमको,
हर पल करीब अपने पाया तुमको।
दुनिया को शिकायत भूल गया सबको,
पर कभी ना हमने भुलाया तुमको।।

********📚********

हर घड़ी तेरा इंतज़ार करता हूँ,
हर आईने में तेरा दीदार करता हूँ।
ज़िन्दगी हो गयी हसीन कहीं ज्यादा,
जब से मैं तुझसे प्यार करता हूँ।।

********📚********

हर घड़ी गीत गुन गुनाते रहना,
मुझे दिल की बात सुनाते रहना।
गम दे देना मुझे फूल समझकर,
तुम हमेशा खुशी से मुस्कुराते रहना।

********📚********

स्वरचित शायरी 📝
✍️रचनाकार:
राजेश कुमार अर्जुन

5 Likes · 201 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
यक्ष प्रश्न
यक्ष प्रश्न
Manu Vashistha
कभी फुरसत मिले तो पिण्डवाड़ा तुम आवो
कभी फुरसत मिले तो पिण्डवाड़ा तुम आवो
gurudeenverma198
जीवन यात्रा
जीवन यात्रा
विजय कुमार अग्रवाल
#परिहास-
#परिहास-
*प्रणय प्रभात*
प्रेमी-प्रेमिकाओं का बिछड़ना, कोई नई बात तो नहीं
प्रेमी-प्रेमिकाओं का बिछड़ना, कोई नई बात तो नहीं
The_dk_poetry
छल.....
छल.....
sushil sarna
खोल नैन द्वार माँ।
खोल नैन द्वार माँ।
लक्ष्मी सिंह
बिलकुल सच है, व्यस्तता एक भ्रम है, दोस्त,
बिलकुल सच है, व्यस्तता एक भ्रम है, दोस्त,
पूर्वार्थ
सब दिन होते नहीं समान
सब दिन होते नहीं समान
जगदीश लववंशी
#एकताको_अंकगणित
#एकताको_अंकगणित
NEWS AROUND (SAPTARI,PHAKIRA, NEPAL)
कांटें हों कैक्टस  के
कांटें हों कैक्टस के
Atul "Krishn"
इंद्रधनुष
इंद्रधनुष
Santosh kumar Miri
ज़िस्म की खुश्बू,
ज़िस्म की खुश्बू,
Bodhisatva kastooriya
दोहावली
दोहावली
आर.एस. 'प्रीतम'
सफलता
सफलता
Babli Jha
जब प्यार है
जब प्यार है
surenderpal vaidya
मतदान से, हर संकट जायेगा;
मतदान से, हर संकट जायेगा;
पंकज कुमार कर्ण
3344.⚘ *पूर्णिका* ⚘
3344.⚘ *पूर्णिका* ⚘
Dr.Khedu Bharti
चन्द्र की सतह पर उतरा चन्द्रयान
चन्द्र की सतह पर उतरा चन्द्रयान
नूरफातिमा खातून नूरी
वह व्यवहार किसी के साथ न करें जो
वह व्यवहार किसी के साथ न करें जो
Sonam Puneet Dubey
मेरी फितरत ही बुरी है
मेरी फितरत ही बुरी है
VINOD CHAUHAN
नीचे तबके का मनुष्य , जागरूक , शिक्षित एवं सबसे महत्वपूर्ण ब
नीचे तबके का मनुष्य , जागरूक , शिक्षित एवं सबसे महत्वपूर्ण ब
Raju Gajbhiye
सुबह का भूला
सुबह का भूला
Dr. Pradeep Kumar Sharma
तकलीफ ना होगी मरने मे
तकलीफ ना होगी मरने मे
Anil chobisa
वोट कर!
वोट कर!
Neelam Sharma
एक तेरे चले जाने से कितनी
एक तेरे चले जाने से कितनी
ब्रजनंदन कुमार 'विमल'
*बुरे फँसे कवयित्री पत्नी पाकर (हास्य व्यंग्य)*
*बुरे फँसे कवयित्री पत्नी पाकर (हास्य व्यंग्य)*
Ravi Prakash
मैं बंजारा बन जाऊं
मैं बंजारा बन जाऊं
Shyamsingh Lodhi Rajput (Tejpuriya)
"" *अहसास तेरा* ""
सुनीलानंद महंत
खुशियों की आँसू वाली सौगात
खुशियों की आँसू वाली सौगात
DR ARUN KUMAR SHASTRI
Loading...