Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
15 Feb 2023 · 1 min read

“मेरी नयी स्कूटी”

“मेरी नयी स्कूटी”
आ गई तूं चमकती बाहर
खुश हूं मैं तुमको देखकर
लाल चमकीला रंग है तेरा
चलती है फुदक फुदक कर,
चलाने के लिए नहीं जरूरत
तुझको कुछ पैट्रोल पिलाने की
थोड़ी देर बिजली में लगते ही
झटपट से तूं चलने लग जाती,
नाम तेरा ओला एस वन स्कूटी
चलते हुए गाने भी तूं बजाती
स्पीकर तेरा बहुत ही मस्त है
चारों तरफ़ संगीत है सुनाती,
चाबी लगाने की नहीं जरूरत
स्मार्ट तरीके से तूं चल पड़ती
ऑफलाइन नक्शे का फीचर्स
भूले भटके को राह तूं दिखाती,
बैक गियर का है जबर ऑप्शन
टूं टूं आवाज कर पीछे मुड़ जाती
बिना ध्वनि के मचलकर चलती
पूनिया का सरताज कहलाती।

Language: Hindi
1 Like · 222 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr Meenu Poonia
View all
You may also like:
रावण
रावण
भवानी सिंह धानका 'भूधर'
दर्द लफ़ज़ों में
दर्द लफ़ज़ों में
Dr fauzia Naseem shad
जिंदगी तुझको सलाम
जिंदगी तुझको सलाम
gurudeenverma198
शुरू करते हैं फिर से मोहब्बत,
शुरू करते हैं फिर से मोहब्बत,
Jitendra Chhonkar
*एक शेर*
*एक शेर*
Ravi Prakash
# विचार
# विचार
DrLakshman Jha Parimal
मगरूर क्यों हैं
मगरूर क्यों हैं
Mamta Rani
होली
होली
नूरफातिमा खातून नूरी
लोगो की नजर में हम पागल है
लोगो की नजर में हम पागल है
भरत कुमार सोलंकी
जीवन
जीवन
नवीन जोशी 'नवल'
शिछा-दोष
शिछा-दोष
Bodhisatva kastooriya
23/67.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/67.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
* जगेगा नहीं *
* जगेगा नहीं *
surenderpal vaidya
किरायेदार
किरायेदार
Keshi Gupta
"हाशिया"
Dr. Kishan tandon kranti
सीमजी प्रोडक्शंस की फिल्म ‘राजा सलहेस’ मैथिली सिनेमा की दूसरी सबसे सफल फिल्मों में से एक मानी जा रही है.
सीमजी प्रोडक्शंस की फिल्म ‘राजा सलहेस’ मैथिली सिनेमा की दूसरी सबसे सफल फिल्मों में से एक मानी जा रही है.
श्रीहर्ष आचार्य
ग़ज़ल
ग़ज़ल
ईश्वर दयाल गोस्वामी
कुश्ती दंगल
कुश्ती दंगल
मनोज कर्ण
वोट का लालच
वोट का लालच
Raju Gajbhiye
कभी कभी ज़िंदगी में लिया गया छोटा निर्णय भी बाद के दिनों में
कभी कभी ज़िंदगी में लिया गया छोटा निर्णय भी बाद के दिनों में
Paras Nath Jha
स्वयं द्वारा किए कर्म यदि बच्चों के लिए बाधा बनें और  गृह स्
स्वयं द्वारा किए कर्म यदि बच्चों के लिए बाधा बनें और गृह स्
Sanjay ' शून्य'
समझदार व्यक्ति जब संबंध निभाना बंद कर दे
समझदार व्यक्ति जब संबंध निभाना बंद कर दे
शेखर सिंह
अच्छी बात है
अच्छी बात है
Ashwani Kumar Jaiswal
तुझको को खो कर मैंने खुद को पा लिया है।
तुझको को खो कर मैंने खुद को पा लिया है।
Vishvendra arya
अश्रु (नील पदम् के दोहे)
अश्रु (नील पदम् के दोहे)
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
दुनिया  के सब रहस्यों के पार है पिता
दुनिया के सब रहस्यों के पार है पिता
पूर्वार्थ
फितरत
फितरत
Dr. Seema Varma
गुरु महाराज के श्री चरणों में, कोटि कोटि प्रणाम है
गुरु महाराज के श्री चरणों में, कोटि कोटि प्रणाम है
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
एक तरफ तो तुम
एक तरफ तो तुम
Dr Manju Saini
ज़िंदगी यूँ तो बड़े आज़ार में है,
ज़िंदगी यूँ तो बड़े आज़ार में है,
Kalamkash
Loading...