Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
May 12, 2022 · 1 min read

मेरा पेड़

कुछ समय पहले में कुछ बीज मैं लाया था
अपने घर के आंगन में बीज को लगाया था
बच्चों जैसे पाला पानी देकर बढ़ाया उसको
बढ़ा हुआ जब वह उसने अपनी रंगत दिखाई
एक बच्चा भी नहीं आता था मेरे आंगन में
अब दिन भर चहक रहा आंगन मेरा आंगन मेरा!!
बड़े बुजुर्ग आकर बैठ जाते किससे अलग सुनाते
प्यारी प्यारी बातें करते बात पते की बताते
मीठे फल भी दे रहा ऐसी रंगत उसने दिखाई
आने लगे आंगन में पक्षी ऐसी रंगत दिखाई
अब दिन भर चहक रहा आंगन मेरा आंगन मेरा!!

1 Like · 60 Views
You may also like:
" महिलाओं वाला सावन "
Dr Meenu Poonia
मोबाइल सन्देश (दोहा)
N.ksahu0007@writer
हंसगति छंद , विधान और विधाएं
Subhash Singhai
कुछ तुम बदलो, कुछ हम बदलें।
निकेश कुमार ठाकुर
नाम लेकर भुला रहा है
Vindhya Prakash Mishra
महेंद्र जी (संस्मरण / पुस्तक समीक्षा)
Ravi Prakash
विसाले यार
Taj Mohammad
लौट आई जिंदगी बेटी बनकर!
ज्ञानीचोर ज्ञानीचोर
बच्चों के पिता
Dr. Kishan Karigar
यह सूखे होंठ समंदर की मेहरबानी है
Dr.SAGHEER AHMAD SIDDIQUI
बुद्ध पूर्णिमा पर तीन मुक्तक।
Anamika Singh
💐प्रेम की राह पर-22💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
मन्नू जी की स्मृति में दोहे (श्रद्धा सुमन)
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
ये नारी है नारी।
Taj Mohammad
नागफनी बो रहे लोग
शेख़ जाफ़र खान
मौत ने कुछ बिगाड़ा नहीं
अरशद रसूल /Arshad Rasool
*पंडित ज्वाला प्रसाद मिश्र और आर्य समाज-सनातन धर्म का विवाद*
Ravi Prakash
काश हमारे पास भी होती ये दौलत।
Taj Mohammad
*माहेश्वर तिवारी जी से संपर्क*
Ravi Prakash
अल्फाज़ ए ताज भाग-3
Taj Mohammad
उफ ! ये गर्मी, हाय ! गर्मी / (गर्मी का...
ईश्वर दयाल गोस्वामी
" मां भवानी "
Dr Meenu Poonia
✍️मुमकिन था..!✍️
"अशांत" शेखर
*शंकर तुम्हें प्रणाम है (भक्ति-गीत)*
Ravi Prakash
मेरे पिता
rubichetanshukla रुबी चेतन शुक्ला
" tyranny of oppression "
DESH RAJ
दिल टूट करके।
Taj Mohammad
पिता
कुमार अविनाश केसर
✍️सुकून✍️
"अशांत" शेखर
माटी के पुतले
AMRESH KUMAR VERMA
Loading...