Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
22 May 2024 · 1 min read

मुस्कुरा दीजिए

4

मीठी यादों को स्मरण कर मुस्कुरा दीजिए,
मन पसंद गीत कोई पुराना गुनगुना दीजिए।

पड़ गई दिल पर जो कड़वाहटों की झुर्रियां,
संवाद का लेप लगाकर ज़रा मिटा दीजिए।

प्यार में जीत हार की कोई जगह ही नहीं,
हार में भी जीत का ही केवल मज़ा लीजिए।

मोहब्बत को मोहब्बत से ही जीत लें,
मोहब्बत को इबादत का सिला दीजिए।

बढ़ा ली हैं दूरियां जो इश्क़ की राहों पर,
ख़फ़ा होकर भी वफ़ा से सजदा कीजिए।

ढलती ज़िंदगी की शाम न जाने कब हो जाए,
शर्तों में यूँ न समय को बर्बाद किया कीजिए।

ज़िंदगी एक अनिश्चित सफ़र है सब जानते हैं,
मन को रिश्ते निभाने का हुनर सिखा दीजिए।

डॉ दवीना अमर ठकराल ‘देविका’

23 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
सद्विचार
सद्विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
■ आप भी करें कौशल विकास।😊😊
■ आप भी करें कौशल विकास।😊😊
*प्रणय प्रभात*
"राजनीति में आत्मविश्वास के साथ कही गई हर बात पत्थर पर लकीर
डॉ.एल. सी. जैदिया 'जैदि'
मुस्कुराना चाहते हो
मुस्कुराना चाहते हो
surenderpal vaidya
परख: जिस चेहरे पर मुस्कान है, सच्चा वही इंसान है!
परख: जिस चेहरे पर मुस्कान है, सच्चा वही इंसान है!
Rohit Gupta
एक मशाल जलाओ तो यारों,
एक मशाल जलाओ तो यारों,
नेताम आर सी
आखिर मैंने भी कवि बनने की ठानी
आखिर मैंने भी कवि बनने की ठानी
Dr MusafiR BaithA
जिंदगी है कि जीने का सुरूर आया ही नहीं
जिंदगी है कि जीने का सुरूर आया ही नहीं
Deepak Baweja
आँखों से नींदे
आँखों से नींदे
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
फिर से आंखों ने
फिर से आंखों ने
Dr fauzia Naseem shad
मतदान करो और देश गढ़ों!
मतदान करो और देश गढ़ों!
पाण्डेय चिदानन्द "चिद्रूप"
वज़ह सिर्फ तूम
वज़ह सिर्फ तूम
krishna waghmare , कवि,लेखक,पेंटर
अक्सर लोग सोचते हैं,
अक्सर लोग सोचते हैं,
करन ''केसरा''
नाजुक देह में ज्वाला पनपे
नाजुक देह में ज्वाला पनपे
कवि दीपक बवेजा
भविष्य..
भविष्य..
Dr. Mulla Adam Ali
सनातन की रक्षा
सनातन की रक्षा
Mahesh Ojha
ज़ब तक धर्मों मे पाप धोने की व्यवस्था है
ज़ब तक धर्मों मे पाप धोने की व्यवस्था है
शेखर सिंह
एक आज़ाद परिंदा
एक आज़ाद परिंदा
Shekhar Chandra Mitra
★फसल किसान की जान हिंदुस्तान की★
★फसल किसान की जान हिंदुस्तान की★
★ IPS KAMAL THAKUR ★
कुछ तो पोशीदा दिल का हाल रहे
कुछ तो पोशीदा दिल का हाल रहे
Shweta Soni
नए दौर का भारत
नए दौर का भारत
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
पूर्वोत्तर के भूले-बिसरे चित्र (समीक्षा)
पूर्वोत्तर के भूले-बिसरे चित्र (समीक्षा)
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
World Environmental Day
World Environmental Day
Tushar Jagawat
करूँ प्रकट आभार।
करूँ प्रकट आभार।
Anil Mishra Prahari
मेरे चेहरे से ना लगा मेरी उम्र का तकाज़ा,
मेरे चेहरे से ना लगा मेरी उम्र का तकाज़ा,
Ravi Betulwala
3394⚘ *पूर्णिका* ⚘
3394⚘ *पूर्णिका* ⚘
Dr.Khedu Bharti
बेतरतीब
बेतरतीब
Dr. Kishan tandon kranti
আমি তোমাকে ভালোবাসি
আমি তোমাকে ভালোবাসি
Otteri Selvakumar
*पेट-भराऊ भोज, समोसा आलूवाला (कुंडलिया)*
*पेट-भराऊ भोज, समोसा आलूवाला (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
गंधारी
गंधारी
Shashi Mahajan
Loading...