Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
20 Mar 2024 · 1 min read

मुझे भी “याद” रखना,, जब लिखो “तारीफ ” वफ़ा की.

मुझे भी “याद” रखना,, जब लिखो “तारीफ ” वफ़ा की.
मैंने भी लुटाया है,, मोहब्बत मैं “सब कुछ ” अपना.

45 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
दिहाड़ी मजदूर
दिहाड़ी मजदूर
Vishnu Prasad 'panchotiya'
इतना हमने भी
इतना हमने भी
Dr fauzia Naseem shad
One fails forward toward success - Charles Kettering
One fails forward toward success - Charles Kettering
पूर्वार्थ
कोई दवा दुआ नहीं कोई जाम लिया है
कोई दवा दुआ नहीं कोई जाम लिया है
हरवंश हृदय
हर मोड़ पर ,
हर मोड़ पर ,
Dhriti Mishra
गिला,रंजिशे नाराजगी, होश मैं सब रखते है ,
गिला,रंजिशे नाराजगी, होश मैं सब रखते है ,
गुप्तरत्न
शांति के लिए अगर अन्तिम विकल्प झुकना
शांति के लिए अगर अन्तिम विकल्प झुकना
Paras Nath Jha
#साहित्यपीडिया
#साहित्यपीडिया
*प्रणय प्रभात*
तुम बिन
तुम बिन
Dinesh Kumar Gangwar
नहीं देखा....🖤
नहीं देखा....🖤
Srishty Bansal
प्रतिभाशाली बाल कवयित्री *सुकृति अग्रवाल* को ध्यान लगाते हुए
प्रतिभाशाली बाल कवयित्री *सुकृति अग्रवाल* को ध्यान लगाते हुए
Ravi Prakash
आसमान तक पहुंचे हो धरती पर हो पांव
आसमान तक पहुंचे हो धरती पर हो पांव
नूरफातिमा खातून नूरी
प्रकृति से हमें जो भी मिला है हमनें पूजा है
प्रकृति से हमें जो भी मिला है हमनें पूजा है
Sonam Puneet Dubey
आईने में देखकर खुद पर इतराते हैं लोग...
आईने में देखकर खुद पर इतराते हैं लोग...
Nitesh Kumar Srivastava
"बेमानी"
Dr. Kishan tandon kranti
सर्द रातें
सर्द रातें
Sandhya Chaturvedi(काव्यसंध्या)
क्या अजीब बात है
क्या अजीब बात है
Atul "Krishn"
हरे भरे खेत
हरे भरे खेत
जगदीश लववंशी
मा भारती को नमन
मा भारती को नमन
Bodhisatva kastooriya
महफिल में तनहा जले,
महफिल में तनहा जले,
sushil sarna
Nowadays doing nothing is doing everything.
Nowadays doing nothing is doing everything.
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
बरसात
बरसात
surenderpal vaidya
सरकारी नौकरी में, मौज करना छोड़ो
सरकारी नौकरी में, मौज करना छोड़ो
gurudeenverma198
* सड़ जी नेता हुए *
* सड़ जी नेता हुए *
Mukta Rashmi
हर शख्स माहिर है.
हर शख्स माहिर है.
Radhakishan R. Mundhra
खालीपन
खालीपन
करन ''केसरा''
मां जब मैं तेरे गर्भ में था, तू मुझसे कितनी बातें करती थी...
मां जब मैं तेरे गर्भ में था, तू मुझसे कितनी बातें करती थी...
Anand Kumar
अमृत मयी गंगा जलधारा
अमृत मयी गंगा जलधारा
Ritu Asooja
*** सफलता की चाह में......! ***
*** सफलता की चाह में......! ***
VEDANTA PATEL
प्रीत प्रेम की
प्रीत प्रेम की
Monika Yadav (Rachina)
Loading...