Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
2 Jun 2023 · 1 min read

मुजरिम करार जब कोई क़ातिल…

जो दिल की बारगाह में दाख़िल नहीं हुआ,
उस पर फ़िदा किसी भी तरह दिल नहीं हुआ।।

किरदार कटघरे में रहा मेरा क्यूँकि मैं,
दुनिया की भीड़ – भाड़ में शामिल नहीं हुआ।।

मक़्तूल फिर से क़त्ल हुआ फ़ैसले के वक़्त,
मुजरिम करार जब कोई क़ातिल नहीं हुआ।।

जब-जब रहा ग़मों का समन्दर उफान पर,
लहरों के फिर नसीब में साहिल नहीं हुआ।।

क़ायम रहा हूँ क़ौल पे अपने सदा ही मैं,
इसका मुझे है नाज़ कि बातिल नहीं हुआ।।

कीमत लगा रहा था वो सिक्के उछाल कर,
रुतबा मगर अमीर का हासिल नहीं हुआ।।

अब हैसियत की बात करूँ ‘ अश्क ‘ भी तो क्या?
सैलाब कोई तेरे मुक़ाबिल नहीं हुआ।।

© अश्क चिरैयाकोटी

Language: Hindi
2 Likes · 850 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
3150.*पूर्णिका*
3150.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
दहलीज के पार 🌷🙏
दहलीज के पार 🌷🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
ईश्वर का प्रेम उपहार , वह है परिवार
ईश्वर का प्रेम उपहार , वह है परिवार
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
खामोशी से तुझे आज भी चाहना
खामोशी से तुझे आज भी चाहना
Dr. Mulla Adam Ali
दम तोड़ते अहसास।
दम तोड़ते अहसास।
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
नारी
नारी
विनोद वर्मा ‘दुर्गेश’
मुझे तो मेरी फितरत पे नाज है
मुझे तो मेरी फितरत पे नाज है
नेताम आर सी
मैं जीना सकूंगा कभी उनके बिन
मैं जीना सकूंगा कभी उनके बिन
कृष्णकांत गुर्जर
परामर्श शुल्क –व्यंग रचना
परामर्श शुल्क –व्यंग रचना
Dr Mukesh 'Aseemit'
"मेरी कलम से"
Dr. Kishan tandon kranti
एहसास
एहसास
Er.Navaneet R Shandily
अपनी सोच का शब्द मत दो
अपनी सोच का शब्द मत दो
Mamta Singh Devaa
तेरे हक़ में
तेरे हक़ में
Dr fauzia Naseem shad
देखिए आप आप सा हूँ मैं
देखिए आप आप सा हूँ मैं
Anis Shah
हम
हम
Adha Deshwal
दुनिया
दुनिया
Mangilal 713
विजय द्वार (कविता)
विजय द्वार (कविता)
Monika Yadav (Rachina)
*वरिष्ठ नागरिक (हास्य कुंडलिया)*
*वरिष्ठ नागरिक (हास्य कुंडलिया)*
Ravi Prakash
The World at a Crossroad: Navigating the Shadows of Violence and Contemplated World War
The World at a Crossroad: Navigating the Shadows of Violence and Contemplated World War
Shyam Sundar Subramanian
कौन सुनेगा बात हमारी
कौन सुनेगा बात हमारी
Surinder blackpen
जिंदगी की हर कसौटी पर इम्तिहान हमने बखूबी दिया,
जिंदगी की हर कसौटी पर इम्तिहान हमने बखूबी दिया,
manjula chauhan
ज़िंदगी  ने  अब  मुस्कुराना  छोड़  दिया  है
ज़िंदगी ने अब मुस्कुराना छोड़ दिया है
Bhupendra Rawat
I
I
Ranjeet kumar patre
अति-उताक्ली नई पीढ़ी
अति-उताक्ली नई पीढ़ी
*प्रणय प्रभात*
हरदा अग्नि कांड
हरदा अग्नि कांड
GOVIND UIKEY
कौन करता है आजकल जज्बाती इश्क,
कौन करता है आजकल जज्बाती इश्क,
डी. के. निवातिया
ममता
ममता
Dr. Pradeep Kumar Sharma
पानी की तस्वीर तो देखो
पानी की तस्वीर तो देखो
VINOD CHAUHAN
यहां  ला  के हम भी , मिलाए गए हैं ,
यहां ला के हम भी , मिलाए गए हैं ,
Neelofar Khan
सफर पर है आज का दिन
सफर पर है आज का दिन
Sonit Parjapati
Loading...