Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
29 Mar 2017 · 1 min read

मुक्तक

तुझको देखना मुझको सुकून देता है!
तुझको सोचना मुझको जुनून देता है!
जिन्दा है अभी नजरों में ख्वाब का शजर,
तुझको चाहना मुझको मजमून देता है!

मुक्तककार- #महादेव'(23)

Language: Hindi
319 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
*20वे पुण्य-स्मृति दिवस पर पूज्य पिता जी के श्रीचरणों में श्
*20वे पुण्य-स्मृति दिवस पर पूज्य पिता जी के श्रीचरणों में श्
*Author प्रणय प्रभात*
शिक्षा
शिक्षा
Neeraj Agarwal
मिला है जब से साथ तुम्हारा
मिला है जब से साथ तुम्हारा
Ram Krishan Rastogi
💐अज्ञात के प्रति-39💐
💐अज्ञात के प्रति-39💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
अर्थपुराण
अर्थपुराण
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
रिश्तें - नाते में मानव जिवन
रिश्तें - नाते में मानव जिवन
Anil chobisa
तुम्हीं हो
तुम्हीं हो
हिमांशु बडोनी (दयानिधि)
!! दर्द भरी ख़बरें !!
!! दर्द भरी ख़बरें !!
Chunnu Lal Gupta
सत्य की खोज
सत्य की खोज
SHAMA PARVEEN
गुम है
गुम है
Punam Pande
"अदृश्य शक्ति"
Ekta chitrangini
"ए एड़ी न होती"
Dr. Kishan tandon kranti
सुविचार
सुविचार
विनोद कृष्ण सक्सेना, पटवारी
आदिपुरुष समीक्षा
आदिपुरुष समीक्षा
Dr.Archannaa Mishraa
माँ की चाह
माँ की चाह
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
// तुम सदा खुश रहो //
// तुम सदा खुश रहो //
Shivkumar barman
2326.पूर्णिका
2326.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
निज धर्म सदा चलते रहना
निज धर्म सदा चलते रहना
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
प्रेम उतना ही करो जिसमे हृदय खुश रहे
प्रेम उतना ही करो जिसमे हृदय खुश रहे
पूर्वार्थ
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
पानी से पानी पर लिखना
पानी से पानी पर लिखना
Ramswaroop Dinkar
तकते थे हम चांद सितारे
तकते थे हम चांद सितारे
Suryakant Dwivedi
प्रिय
प्रिय
The_dk_poetry
पूछ रही हूं
पूछ रही हूं
Srishty Bansal
*मकान (बाल कविता)*
*मकान (बाल कविता)*
Ravi Prakash
नकाबे चेहरा वाली, पेश जो थी हमको सूरत
नकाबे चेहरा वाली, पेश जो थी हमको सूरत
gurudeenverma198
अंताक्षरी पिरामिड तुक्तक
अंताक्षरी पिरामिड तुक्तक
Subhash Singhai
🥀 #गुरु_चरणों_की_धूल 🥀
🥀 #गुरु_चरणों_की_धूल 🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
अगर कभी किस्मत से किसी रास्ते पर टकराएंगे
अगर कभी किस्मत से किसी रास्ते पर टकराएंगे
शेखर सिंह
संगीत वह एहसास है जो वीराने स्थान को भी रंगमय कर देती है।
संगीत वह एहसास है जो वीराने स्थान को भी रंगमय कर देती है।
Rj Anand Prajapati
Loading...