Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
18 Jun 2016 · 1 min read

मुक्तक :– तेरे पायल की छन्कार मुझको यहाँ बुलाती है !!

मुक्तक :– तेरे पायल की छन्कार मुझको यहाँ बुलाती है !!

मै जब उदास हो जाता हूँ ,तनहाई तडफाती है !
तेरे पायल की छनकार ,मुझको यहाँ बुलाती है !
इन बागों इन गलियों मे , तेरे साये मीठी यादों के ,
यहाँ सावन की बौछार , मुझको बहुत रुलाती है !!

Language: Hindi
Tag: मुक्तक
1 Like · 1 Comment · 636 Views
You may also like:
We Would Be Connected Actually
Manisha Manjari
बेरोजगार आशिक
Shekhar Chandra Mitra
चौपाई - धुँआ धुँआ बादल बादल l
अरविन्द व्यास
मुझे लौटा दो वो गुजरा जमाना ...
ओनिका सेतिया 'अनु '
पिता - नीम की छाँव सा - डी के निवातिया
डी. के. निवातिया
तो क्या हुआ
Faza Saaz
ठोकर खाया हूँ
Anamika Singh
" पर्व गोर्वधन "
Dr Meenu Poonia
तमाम उम्र।
Taj Mohammad
एक ज़िंदगी में
Dr fauzia Naseem shad
मन मोहन हे मुरली मनोहर !
Saraswati Bajpai
संगीत
Surjeet Kumar
Book of the day: मालव (उपन्यास)
Sahityapedia
माँ सिद्धिदात्री
Vandana Namdev
चुनाव आते ही....?
Dushyant Kumar
बारिश का मौसम
विजय कुमार अग्रवाल
#मजबूरिया
Dalveer Singh
ग़ज़ल
Anis Shah
तुम्हारा देखना ❣️
अनंत पांडेय "INϕ9YT"
यशोदा का नंदलाल बांसूरी वाला
VINOD KUMAR CHAUHAN
**अशुद्ध अछूत - नारी **
DR ARUN KUMAR SHASTRI
तमन्ना अनूप
Dr.sima
कहानी *"ममता"* पार्ट-4 लेखक: राधाकिसन मूंधड़ा, सूरत।
radhakishan Mundhra
सच होता है कड़वा
gurudeenverma198
✍️ज्वालामुखी✍️
'अशांत' शेखर
बोलती तस्वीर
राकेश कुमार राठौर
पत्र की स्मृति में
Rashmi Sanjay
हमारे जैसा कोई और....
sangeeta beniwal
प़थम स्वतंत्रता संग्राम
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
*हनुमान धाम-यात्रा*
Ravi Prakash
Loading...