Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
18 Aug 2023 · 1 min read

मिट्टी की खुश्बू

मिट्टी की खुश्बू भी
दिल जीत लेगी ।
कभी बारिशों में तुम
भीग जाना ॥
डाॅ फौज़िया नसीम शाद

Language: Hindi
Tag: शेर
8 Likes · 287 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr fauzia Naseem shad
View all
You may also like:
When life  serves you with surprises your planning sits at b
When life serves you with surprises your planning sits at b
Nupur Pathak
🌱मैं कल न रहूँ...🌱
🌱मैं कल न रहूँ...🌱
सुरेश अजगल्ले 'इन्द्र '
बाहर-भीतर
बाहर-भीतर
Dhirendra Singh
ऐसा कभी क्या किया है किसी ने
ऐसा कभी क्या किया है किसी ने
gurudeenverma198
दीपावली त्यौहार
दीपावली त्यौहार
Suman (Aditi Angel 🧚🏻)
रमेशराज के वर्णिक छंद में मुक्तक
रमेशराज के वर्णिक छंद में मुक्तक
कवि रमेशराज
दर्द का बस
दर्द का बस
Dr fauzia Naseem shad
♥️♥️दौर ए उल्फत ♥️♥️
♥️♥️दौर ए उल्फत ♥️♥️
umesh mehra
सद्विचार
सद्विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
■ कितना वदल गया परिवेश।।😢😢
■ कितना वदल गया परिवेश।।😢😢
*Author प्रणय प्रभात*
23/197. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/197. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
किसान का दर्द
किसान का दर्द
Tarun Singh Pawar
मां के आँचल में
मां के आँचल में
Satish Srijan
*दो स्थितियां*
*दो स्थितियां*
Suryakant Dwivedi
"सरकस"
Dr. Kishan tandon kranti
भले ही भारतीय मानवता पार्टी हमने बनाया है और इसका संस्थापक स
भले ही भारतीय मानवता पार्टी हमने बनाया है और इसका संस्थापक स
Dr. Man Mohan Krishna
पृथ्वी की दरारें
पृथ्वी की दरारें
Santosh Shrivastava
द़ुआ कर
द़ुआ कर
Atul "Krishn"
दूर चकोरी तक रही अकास...
दूर चकोरी तक रही अकास...
डॉ.सीमा अग्रवाल
**बकरा बन पल मे मै हलाल हो गया**
**बकरा बन पल मे मै हलाल हो गया**
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
हमारी मंजिल को एक अच्छा सा ख्वाब देंगे हम!
हमारी मंजिल को एक अच्छा सा ख्वाब देंगे हम!
Diwakar Mahto
"इस्राइल -गाज़ा युध्य
DrLakshman Jha Parimal
बस, इतना सा करना...गौर से देखते रहना
बस, इतना सा करना...गौर से देखते रहना
Teena Godhia
✍️ मसला क्यूँ है ?✍️
✍️ मसला क्यूँ है ?✍️
'अशांत' शेखर
रोगी जिसका तन हुआ, समझो तन बेकार (कुंडलिया)
रोगी जिसका तन हुआ, समझो तन बेकार (कुंडलिया)
Ravi Prakash
चाय और सिगरेट
चाय और सिगरेट
आकाश महेशपुरी
नन्हीं परी आई है
नन्हीं परी आई है
Mukesh Kumar Sonkar
💐प्रेम कौतुक-263💐
💐प्रेम कौतुक-263💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
सच में शक्ति अकूत
सच में शक्ति अकूत
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
झूठे सपने
झूठे सपने
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
Loading...