Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
14 Feb 2017 · 1 min read

माँ तेरे दर पर आई हूँ।

जय माँ वैष्णो देवी
जय माता दी
जय माँ शेरावाली
?????
माँ तेरे दर पर आई हूँ
हाथ जोड़े मैया ,
श्रद्धा का पुष्प मैं लाई हूँ

क्या माँगूं माँ मैं तुझ से
बहुत कुछ कमी हैं मुझ में,
क्या छुपा है तुझ से
सब जानती है ,मैया
जो कुछ भी है मेरे मन में
तेरे चरण में मैया
सर को झुकाने आई हूँ

माँ तेरे दर पर आई हूँ
हाथ जोड़े मैया,
श्रद्धा का पुष्प मैं लाई हूँ

एक तेरा सहारा माँ
एक तेरा भरोसा माँ
जो मझधार मेरी नैया
माँ तू ही है खेवैया
अपने जीवन की नैया
तेरे हवाले करने आई हूँ

माँ तेरे दर पर आई हूँ
हाथ जोड़े मैया ,
श्रद्धा का पुष्प मैं लाई हूँ
?????—लक्ष्मी सिंह

Language: Hindi
Tag: कविता
1 Like · 362 Views

Books from लक्ष्मी सिंह

You may also like:
भारत रत्न डॉ. बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर
भारत रत्न डॉ. बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर
KEVAL_MEGHWANSHI
इंतजार है नया कैलेंडर (हास्य गीत)
इंतजार है नया कैलेंडर (हास्य गीत)
Ravi Prakash
खुशी बेहिसाब
खुशी बेहिसाब
shabina. Naaz
✍️गहरी बात✍️
✍️गहरी बात✍️
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
हवाओं ने पतझड़ में, साजिशों का सहारा लिया,
हवाओं ने पतझड़ में, साजिशों का सहारा लिया,
Manisha Manjari
ग़ज़ल
ग़ज़ल
Jitendra Kumar Noor
💝एक अबोध बालक💝
💝एक अबोध बालक💝
DR ARUN KUMAR SHASTRI
नारी और वर्तमान
नारी और वर्तमान
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
पिता बच्चों का सम्पूर्ण इतिहाश है
पिता बच्चों का सम्पूर्ण इतिहाश है
कवि आशीष सिंह"अभ्यंत
हम-सफ़र
हम-सफ़र
Shyam Sundar Subramanian
बहुत वो साफ सुधरी ड्रेस में स्कूल आती थी।
बहुत वो साफ सुधरी ड्रेस में स्कूल आती थी।
विजय कुमार नामदेव
ज़िंदा हो ,ज़िंदगी का कुछ तो सबूत दो।
ज़िंदा हो ,ज़िंदगी का कुछ तो सबूत दो।
Khem Kiran Saini
Daily Writing Challenge : घर
Daily Writing Challenge : घर
'अशांत' शेखर
गीत-3 (स्वामी विवेकानंद)
गीत-3 (स्वामी विवेकानंद)
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
■ दोहे फागुन के...
■ दोहे फागुन के...
*Author प्रणय प्रभात*
मैकदे को जाता हूँ,
मैकदे को जाता हूँ,
Satish Srijan
बजट का समायोजन (एक व्यंग)
बजट का समायोजन (एक व्यंग)
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
सुशांत देश (पंचचामर छंद)
सुशांत देश (पंचचामर छंद)
Rambali Mishra
You cannot find me in someone else
You cannot find me in someone else
Sakshi Tripathi
" राज सा पति "
Dr Meenu Poonia
' प्यार करने मैदान में उतरा तो नही जीत पाऊंगा' ❤️
' प्यार करने मैदान में उतरा तो नही जीत पाऊंगा'...
Rohit yadav
आती है लाज
आती है लाज
Shekhar Chandra Mitra
जब जब ……
जब जब ……
Rekha Drolia
और मैं बहरी हो गई
और मैं बहरी हो गई
Surinder blackpen
💐प्रेम कौतुक-268💐
💐प्रेम कौतुक-268💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
हम स्वान नहीं इंसान हैं!
हम स्वान नहीं इंसान हैं!
पाण्डेय चिदानन्द "चिद्रूप"
अवसर त मिलनक ,सम्भव नहिं भ सकत !
अवसर त मिलनक ,सम्भव नहिं भ सकत !
DrLakshman Jha Parimal
लफ़्ज़ों में ढालना
लफ़्ज़ों में ढालना
Dr fauzia Naseem shad
वक्त के लम्हों ने रुलाया है।
वक्त के लम्हों ने रुलाया है।
Taj Mohammad
एक फूल की हत्या
एक फूल की हत्या
Minal Aggarwal
Loading...