Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
29 Oct 2022 · 1 min read

*महाकाल चालीसा*

*महाकाल चालीसा*

जय महाकालेश्वराय नमः
धरती ,आकाश ,पताल सुरक्षित कर:

जगत पूजिता त्रिशूलधारी ,
डमरू धारी ,
तांडव कारी ।
नीलकंठ ।सिर पर चंद्र बिराजे ।।
गले में सर्प धारी ।
पहने बघछाली ।।

संकट आवे,
शिव शंकर पुकारे ।
विश्व रचिता ।
ते हू नाम गुनावे ।।
प्रलय आवे ।
त्रिनेत्र दिखावे ।।
इंद्रलोक तो यूं ही साजे ।
तू तो कैलाश पर्वत पर विराजे ।।

महादेव नाम गुनावे ।
लोगों के मनोकामना पूर्ण करावे।।

8 Likes · 2 Comments · 87 Views
You may also like:
✍️दर्द दिल में....... ✍️
✍️दर्द दिल में....... ✍️
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
तुमसे ज्यादा और किसको, यहाँ प्यार हम करेंगे
तुमसे ज्यादा और किसको, यहाँ प्यार हम करेंगे
gurudeenverma198
किसी ने सही ही कहा है कि आप जितनी आगे वाले कि इज्ज़त करोंगे व
किसी ने सही ही कहा है कि आप जितनी आगे...
Shankar J aanjna
बह रही थी जो हवा
बह रही थी जो हवा
Dr. Rajendra Singh 'Rahi'
बावरी बातें
बावरी बातें
Rashmi Sanjay
पंचशील गीत
पंचशील गीत
Buddha Prakash
ख़्वाब
ख़्वाब
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
फिरकापरस्ती
फिरकापरस्ती
Shekhar Chandra Mitra
अन्न देवता
अन्न देवता
Dr. Girish Chandra Agarwal
भूला प्यार
भूला प्यार
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
अपना नैनीताल...
अपना नैनीताल...
डॉ.सीमा अग्रवाल
नींद खो दी
नींद खो दी
Dr fauzia Naseem shad
✍️हृदय को थोड़ा कठोर बनाकर
✍️हृदय को थोड़ा कठोर बनाकर
'अशांत' शेखर
पल पल बदल रहा है
पल पल बदल रहा है
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
इतना आसां कहां
इतना आसां कहां
कवि दीपक बवेजा
रंगों के पावन पर्व होली की हार्दिक बधाई व अनन्त शुभकामनाएं
रंगों के पावन पर्व होली की हार्दिक बधाई व अनन्त...
अटल मुरादाबादी, ओज व व्यंग कवि
■ कविता / अंतरिक्ष
■ कविता / अंतरिक्ष
*Author प्रणय प्रभात*
नामवर रोज बनते हैं,
नामवर रोज बनते हैं,
Satish Srijan
बेवफाई
बेवफाई
विशाल शुक्ल
"मेरी दुनिया"
Dr Meenu Poonia
आप सभी को महाशिवरात्रि की बहुत-बहुत हार्दिक बधाई..
आप सभी को महाशिवरात्रि की बहुत-बहुत हार्दिक बधाई..
आर.एस. 'प्रीतम'
Mahadav, mera WhatsApp number save kar lijiye,
Mahadav, mera WhatsApp number save kar lijiye,
Ankita Patel
*साठ साल के हुए बेचारे पतिदेव (हास्य व्यंग्य)*
*साठ साल के हुए बेचारे पतिदेव (हास्य व्यंग्य)*
Ravi Prakash
💐प्रेम कौतुक-500💐
💐प्रेम कौतुक-500💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
किसी को नीचा दिखाना , किसी पर हावी होना ,  किसी को नुकसान पह
किसी को नीचा दिखाना , किसी पर हावी होना ,...
Seema Verma
गुलशन के हर फूल को।
गुलशन के हर फूल को।
Taj Mohammad
चुपके से चले गये तुम
चुपके से चले गये तुम
Surinder blackpen
Writing Challenge- मुस्कान (Smile)
Writing Challenge- मुस्कान (Smile)
Sahityapedia
बिन माचिस के आग लगा देते हो
बिन माचिस के आग लगा देते हो
Ram Krishan Rastogi
निश्छल छंद विधान
निश्छल छंद विधान
डॉ. रजनी अग्रवाल 'वाग्देवी रत्ना'
Loading...