Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
28 Dec 2023 · 1 min read

महकती रात सी है जिंदगी आंखों में निकली जाय।

महकती रात सी है जिंदगी आंखों में निकली जाय।
मचलते ख्वाब सी है जिंदगी सांसों से निकली जाय।।
बहुत कोशिश किया “कश्यप” की इसको रोक लूं लेकिन ।
फिसलती रेत सी है जिंदगी हाथों से निकली जाय।

1 Like · 1 Comment · 173 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
नज़र मिल जाए तो लाखों दिलों में गम कर दे।
नज़र मिल जाए तो लाखों दिलों में गम कर दे।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
चुनना किसी एक को
चुनना किसी एक को
Mangilal 713
अच्छा लगने लगा है उसे
अच्छा लगने लगा है उसे
Vijay Nayak
बेगुनाह कोई नहीं है इस दुनिया में...
बेगुनाह कोई नहीं है इस दुनिया में...
Radhakishan R. Mundhra
इतनी खुबसुरत हो तुम
इतनी खुबसुरत हो तुम
Diwakar Mahto
#परिहास
#परिहास
*Author प्रणय प्रभात*
My Precious Gems
My Precious Gems
Natasha Stephen
दृढ़ निश्चय
दृढ़ निश्चय
विजय कुमार अग्रवाल
संवेदन-शून्य हुआ हर इन्सां...
संवेदन-शून्य हुआ हर इन्सां...
डॉ.सीमा अग्रवाल
आर्या कंपटीशन कोचिंग क्लासेज केदलीपुर ईरनी रोड ठेकमा आजमगढ़।
आर्या कंपटीशन कोचिंग क्लासेज केदलीपुर ईरनी रोड ठेकमा आजमगढ़।
Rj Anand Prajapati
उम्र के हर पड़ाव पर
उम्र के हर पड़ाव पर
Surinder blackpen
दाम रिश्तों के
दाम रिश्तों के
Dr fauzia Naseem shad
*अलविदा तेईस*
*अलविदा तेईस*
Shashi kala vyas
प्रकृति की ओर
प्रकृति की ओर
जगदीश लववंशी
World Dance Day
World Dance Day
Tushar Jagawat
सोना बोलो है कहाँ, बोला मुझसे चोर।
सोना बोलो है कहाँ, बोला मुझसे चोर।
आर.एस. 'प्रीतम'
जो जिस चीज़ को तरसा है,
जो जिस चीज़ को तरसा है,
Pramila sultan
2988.*पूर्णिका*
2988.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
लहर तो जीवन में होती हैं
लहर तो जीवन में होती हैं
Neeraj Agarwal
डुगडुगी बजती रही ....
डुगडुगी बजती रही ....
sushil sarna
लगा समंदर में डुबकी मनोयोग से
लगा समंदर में डुबकी मनोयोग से
Anamika Tiwari 'annpurna '
अन्न का मान
अन्न का मान
Dr. Pradeep Kumar Sharma
"लेखनी"
Dr. Kishan tandon kranti
तार दिल के टूटते हैं, क्या करूँ मैं
तार दिल के टूटते हैं, क्या करूँ मैं
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
"दो पल की जिंदगी"
Yogendra Chaturwedi
मेरा तोता
मेरा तोता
Kanchan Khanna
गैस कांड की बरसी
गैस कांड की बरसी
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
मेरी जीत की खबर से ऐसे बिलक रहे हैं ।
मेरी जीत की खबर से ऐसे बिलक रहे हैं ।
Phool gufran
*फिर से राम अयोध्या आए, रामराज्य को लाने को (गीत)*
*फिर से राम अयोध्या आए, रामराज्य को लाने को (गीत)*
Ravi Prakash
ऑनलाइन पढ़ाई
ऑनलाइन पढ़ाई
Rajni kapoor
Loading...