Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
25 Jun 2023 · 1 min read

मस्ती को क्या चाहिए ,मन के राजकुमार( कुंडलिया )

मस्ती को क्या चाहिए ,मन के राजकुमार( कुंडलिया )
*****************
मस्ती को क्या चाहिए ,मन के राजकुमार
तन पर हैं कपड़े नहीं , फिर भी सूबेदार
फिर भी सूबेदार ,चार ईंटों का तकिया
राजाओं – सा रौब, उधेड़े सबकी बखिया
कहते रवि कविराय ,मौज होती है सस्ती
धनवानों के पास, खोजिए कब है मस्ती
“””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””
रचयिता :रवि प्रकाश
बाजार सर्राफा, रामपुर (उत्तर प्रदेश)
मोबाइल 99976 15451

461 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Ravi Prakash
View all
You may also like:
जिंदा हूँ अभी मैं और याद है सब कुछ मुझको
जिंदा हूँ अभी मैं और याद है सब कुछ मुझको
gurudeenverma198
23/22.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/22.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
एक मुस्कान के साथ फूल ले आते हो तुम,
एक मुस्कान के साथ फूल ले आते हो तुम,
Kanchan Alok Malu
हिंदी का आनंद लीजिए __
हिंदी का आनंद लीजिए __
Manu Vashistha
सिन्धु घाटी की लिपि : क्यों अंग्रेज़ और कम्युनिस्ट इतिहासकार
सिन्धु घाटी की लिपि : क्यों अंग्रेज़ और कम्युनिस्ट इतिहासकार
बिमल तिवारी “आत्मबोध”
रामफल मंडल (शहीद)
रामफल मंडल (शहीद)
Shashi Dhar Kumar
समय का खेल
समय का खेल
Adha Deshwal
*अच्छा रहता कम ही खाना (बाल कविता)*
*अच्छा रहता कम ही खाना (बाल कविता)*
Ravi Prakash
ढलता सूरज वेख के यारी तोड़ जांदे
ढलता सूरज वेख के यारी तोड़ जांदे
कवि दीपक बवेजा
आजादी का दीवाना था
आजादी का दीवाना था
Vishnu Prasad 'panchotiya'
घर के राजदुलारे युवा।
घर के राजदुलारे युवा।
Kuldeep mishra (KD)
* जगेगा नहीं *
* जगेगा नहीं *
surenderpal vaidya
अजीब सी बेताबी है
अजीब सी बेताबी है
शेखर सिंह
किस्मत की लकीरें
किस्मत की लकीरें
umesh mehra
नव वर्ष
नव वर्ष
RAKESH RAKESH
एहसास दिला देगा
एहसास दिला देगा
Dr fauzia Naseem shad
मित्रता
मित्रता
जगदीश लववंशी
🙅चुनावी साल🙅
🙅चुनावी साल🙅
*Author प्रणय प्रभात*
इस तरह क्या दिन फिरेंगे....
इस तरह क्या दिन फिरेंगे....
डॉ.सीमा अग्रवाल
न मैंने अबतक बुद्धत्व प्राप्त किया है
न मैंने अबतक बुद्धत्व प्राप्त किया है
ruby kumari
ये ज़िंदगी.....
ये ज़िंदगी.....
Mamta Rajput
अनुराग
अनुराग
Sanjay ' शून्य'
जिंदगी का कागज...
जिंदगी का कागज...
Madhuri mahakash
dr arun kumar shastri
dr arun kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
कोरोना भगाएं
कोरोना भगाएं
Dr. Pradeep Kumar Sharma
याद आते हैं
याद आते हैं
Chunnu Lal Gupta
मन की प्रीत
मन की प्रीत
भरत कुमार सोलंकी
बेकसूर तुम हो
बेकसूर तुम हो
SUNIL kumar
बिटिया की जन्मकथा / मुसाफ़िर बैठा
बिटिया की जन्मकथा / मुसाफ़िर बैठा
Dr MusafiR BaithA
" नम पलकों की कोर "
भगवती प्रसाद व्यास " नीरद "
Loading...