Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
14 Jan 2023 · 1 min read

मकर संक्रांति

शरद ऋतु में आया प्रथम त्योंहार
लाता जीवन खुशियां अपार
तिल, गुड़ गज्जक की मिठास
कराता अपनापन का अहसास
शनि की राशि मकर है खास
दक्षिणायन से उत्तरायण में वास
स्नान, ध्यान, दान, पूजा जाप
भारत में होते हैअलग-अलग नाम
पोंगल,सक्रांति,बीहु,खिचड़ी सक्रांत
मकर संक्रांति पर महिमा है अपार
नई फसलों का होता कटाई का काम
पर्व पर पतंग उड़ाते सब आसमान
सब के मन को भाते मीठे पकवान
श्रृद्धा विश्वास का पर्व बढाऐं मान
छोटों से नेह बडे़ जनों करते सम्मान
पिठ्ठू कन्दुक से खेल करें पूरे अरमान
बचपन की यादें ताजा लगे स्वर्ग समान
त्योहार आता है प्रथम खुशियां अपरम्पार
नफरत को भुला कर बढा़ देता है प्यार
भारत त्योहारों का देश रहते है संस्कार ।
-सीमा गुप्ता,अलवर

Language: Hindi
180 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
नारी
नारी
Dr Archana Gupta
बेचारे नेता
बेचारे नेता
दुष्यन्त 'बाबा'
वृंदा तुलसी पेड़ स्वरूपा
वृंदा तुलसी पेड़ स्वरूपा
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
*हिन्दी बिषय- घटना*
*हिन्दी बिषय- घटना*
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
💐प्रेम कौतुक-396💐
💐प्रेम कौतुक-396💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
बड़ा गुरुर था रावण को भी अपने भ्रातृ रूपी अस्त्र पर
बड़ा गुरुर था रावण को भी अपने भ्रातृ रूपी अस्त्र पर
सुनील कुमार
यूनिवर्सिटी के गलियारे
यूनिवर्सिटी के गलियारे
Surinder blackpen
विश्वास
विश्वास
Dr. Pradeep Kumar Sharma
* भीतर से रंगीन, शिष्टता ऊपर से पर लादी【हिंदी गजल/ गीति
* भीतर से रंगीन, शिष्टता ऊपर से पर लादी【हिंदी गजल/ गीति
Ravi Prakash
*स्वर्ग तुल्य सुन्दर सा है परिवार हमारा*
*स्वर्ग तुल्य सुन्दर सा है परिवार हमारा*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
👌फार्मूला👌
👌फार्मूला👌
*Author प्रणय प्रभात*
🚩जाग्रत हिंदुस्तान चाहिए
🚩जाग्रत हिंदुस्तान चाहिए
Pt. Brajesh Kumar Nayak
It is not necessary to be beautiful for beauty,
It is not necessary to be beautiful for beauty,
Sakshi Tripathi
रूबरू मिलने का मौका मिलता नही रोज ,
रूबरू मिलने का मौका मिलता नही रोज ,
Anuj kumar
बाहर जो दिखती है, वो झूठी शान होती है,
बाहर जो दिखती है, वो झूठी शान होती है,
लोकनाथ ताण्डेय ''मधुर''
ग़ुमनाम जिंदगी
ग़ुमनाम जिंदगी
Awadhesh Kumar Singh
उच्च पदों पर आसीन
उच्च पदों पर आसीन
Dr.Rashmi Mishra
तख्तापलट
तख्तापलट
Shekhar Chandra Mitra
पकड़ मजबूत रखना हौसलों की तुम
पकड़ मजबूत रखना हौसलों की तुम "नवल" हरदम ।
शेखर सिंह
दुनिया एक मेला है
दुनिया एक मेला है
VINOD CHAUHAN
लौ
लौ
Dr. Seema Varma
रक्त को उबाल दो
रक्त को उबाल दो
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
भूत अउर सोखा
भूत अउर सोखा
आकाश महेशपुरी
🌿🍀🌿🍀🌿🍀🌿🍀🌿🍀🌿🍀🌿🍀
🌿🍀🌿🍀🌿🍀🌿🍀🌿🍀🌿🍀🌿🍀
subhash Rahat Barelvi
3183.*पूर्णिका*
3183.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
भारत मां की पुकार
भारत मां की पुकार
Shriyansh Gupta
चौबीस घन्टे साथ में
चौबीस घन्टे साथ में
Satish Srijan
कहना ही है
कहना ही है
Jeewan Singh 'जीवनसवारो'
ताकि वो शान्ति से जी सके
ताकि वो शान्ति से जी सके
gurudeenverma198
जिंदगी जब जब हमें
जिंदगी जब जब हमें
ruby kumari
Loading...