Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
23 Jan 2024 · 1 min read

भोर पुरानी हो गई

भोर हुई हलचल सी मची
चिड़ियां चीं – चीं करने लगीं,
पशुओं के गले की घंटी
भैंस – गाय का भौंकना,
दूधिए की टंकी की आवाज
कोयल की कु कू
पपीहे की पीहु पीहु
जंगल जाते किसान
साथ में बैलों की जोड़ी,
छुपता हुआ चंद्रमा
मंद होती तारों की जगमगाहट,
उगता हुआ सूरज
ज़मीं तक तेज गति से
पहुंचने को आतुर किरणें,
मंदिरों की घंटियां
मस्जिद की अजान
गिरिजाघरों की प्रार्थना,
स्कूल जाने को तैयार
छोटे छोटे नौनिहाल,
रोजमर्रा पर लौटते
गांव के स्त्री – पुरुष,
अब नहीं दिखाई देते
गांव की भोर में,
शायद अब भोर भी
समय के साथ बदल गई है,
जैसे आ गया है बदलाव
इंसान के व्यवहार में,
उसी तरह भोर भी बदल गई है,
शायद अब भोर पुरानी हो गई है ।

Language: Hindi
1 Like · 517 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
........,
........,
शेखर सिंह
*शिव शक्ति*
*शिव शक्ति*
Shashi kala vyas
■ होशियार भून रहे हैं। बावले भुनभुना रहे हैं।😊
■ होशियार भून रहे हैं। बावले भुनभुना रहे हैं।😊
*Author प्रणय प्रभात*
मस्जिद से अल्लाह का एजेंट भोंपू पर बोल रहा है
मस्जिद से अल्लाह का एजेंट भोंपू पर बोल रहा है
Dr MusafiR BaithA
Arj Kiya Hai...
Arj Kiya Hai...
Nitesh Kumar Srivastava
3393⚘ *पूर्णिका* ⚘
3393⚘ *पूर्णिका* ⚘
Dr.Khedu Bharti
"दरी दादी"
Dr. Kishan tandon kranti
हिंदी दिवस
हिंदी दिवस
Shashi Dhar Kumar
सुदामा जी
सुदामा जी
Vijay Nagar
एक नज़्म - बे - क़ायदा
एक नज़्म - बे - क़ायदा
DR ARUN KUMAR SHASTRI
कट्टर ईमानदार हूं
कट्टर ईमानदार हूं
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
दिल तोड़ना ,
दिल तोड़ना ,
Buddha Prakash
प्यार में बदला नहीं लिया जाता
प्यार में बदला नहीं लिया जाता
Shekhar Chandra Mitra
दुनिया में कुछ चीजे कभी नही मिटाई जा सकती, जैसे कुछ चोटे अपन
दुनिया में कुछ चीजे कभी नही मिटाई जा सकती, जैसे कुछ चोटे अपन
Soniya Goswami
*युद्ध लड़ सको तो रण में, कुछ शौर्य दिखाने आ जाना (मुक्तक)*
*युद्ध लड़ सको तो रण में, कुछ शौर्य दिखाने आ जाना (मुक्तक)*
Ravi Prakash
भूल गए हम वो दिन , खुशियाँ साथ मानते थे !
भूल गए हम वो दिन , खुशियाँ साथ मानते थे !
DrLakshman Jha Parimal
जख्मो से भी हमारा रिश्ता इस तरह पुराना था
जख्मो से भी हमारा रिश्ता इस तरह पुराना था
कवि दीपक बवेजा
क़रार आये इन आँखों को तिरा दर्शन ज़रूरी है
क़रार आये इन आँखों को तिरा दर्शन ज़रूरी है
Sarfaraz Ahmed Aasee
जय जय जगदम्बे
जय जय जगदम्बे
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
फितरत अमिट जन एक गहना🌷🌷
फितरत अमिट जन एक गहना🌷🌷
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
व्यक्तिगत अभिव्यक्ति
व्यक्तिगत अभिव्यक्ति
Shyam Sundar Subramanian
पाँव
पाँव
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
*कैसे हार मान लूं
*कैसे हार मान लूं
Suryakant Dwivedi
#हौंसले
#हौंसले
पूर्वार्थ
गम की मुहर
गम की मुहर
हरवंश हृदय
नकाबपोश रिश्ता
नकाबपोश रिश्ता
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
हुई नैन की नैन से,
हुई नैन की नैन से,
sushil sarna
जिसने अपने जीवन में दर्द नहीं झेले उसने अपने जीवन में सुख भी
जिसने अपने जीवन में दर्द नहीं झेले उसने अपने जीवन में सुख भी
Rj Anand Prajapati
यादों के झरोखों से...
यादों के झरोखों से...
मनोज कर्ण
ज्ञान-दीपक
ज्ञान-दीपक
Pt. Brajesh Kumar Nayak
Loading...