Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
22 Feb 2024 · 1 min read

भारत माँ का एक लाल

भारत माँ का एक लाल
वीर सपूत महान
जिसका नारा था ये
जय जवान जय किसान।

था छोटी कद काठी का
व्यक्तित्व था यूँ विशाल
जनजन को ऊर्जा देकर
किया उत्साह संचार।

जीवन कष्टों को सहकर
उच्च व्यक्तित्व निर्माण
बलिदान की इक मूरत
न था कोई आडम्बर।

कंटक पथ भी किये प्रयत्न
कहलाये भारत रत्न
रहे देश खाद्दान्न संपन्न
था शास्त्री का स्वप्न।

कर्मठ,महान,युगपुरुष
पर देश को अभिमान
ऐसे ‘लाल’के जन्मदिवस
पर कोटि कोटि प्रणाम।

✍️”कविता चौहान”
स्वरचित एवं मौलिक

35 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
बदलती फितरत
बदलती फितरत
Sûrëkhâ Rãthí
#दुर्दिन_हैं_सन्निकट_तुम्हारे
#दुर्दिन_हैं_सन्निकट_तुम्हारे
संजीव शुक्ल 'सचिन'
अभी-अभी
अभी-अभी
*Author प्रणय प्रभात*
छलनी- छलनी जिसका सीना
छलनी- छलनी जिसका सीना
लक्ष्मी सिंह
क्या अब भी तुम न बोलोगी
क्या अब भी तुम न बोलोगी
Rekha Drolia
💐अज्ञात के प्रति-92💐
💐अज्ञात के प्रति-92💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
दो किसान मित्र थे साथ रहते थे साथ खाते थे साथ पीते थे सुख दु
दो किसान मित्र थे साथ रहते थे साथ खाते थे साथ पीते थे सुख दु
कृष्णकांत गुर्जर
भगतसिंह का आख़िरी खत
भगतसिंह का आख़िरी खत
Shekhar Chandra Mitra
"यायावरी" ग़ज़ल
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
बात तो कद्र करने की है
बात तो कद्र करने की है
Surinder blackpen
छोड दो उनको उन के हाल पे.......अब
छोड दो उनको उन के हाल पे.......अब
shabina. Naaz
2752. *पूर्णिका*
2752. *पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
मनुष्य प्रवृत्ति
मनुष्य प्रवृत्ति
विजय कुमार अग्रवाल
मोहता है सबका मन
मोहता है सबका मन
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
पशुओं के दूध का मनुष्य द्वारा उपयोग अत्याचार है
पशुओं के दूध का मनुष्य द्वारा उपयोग अत्याचार है
Dr MusafiR BaithA
*रेल हादसा*
*रेल हादसा*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
कर ही बैठे हैं हम खता देखो
कर ही बैठे हैं हम खता देखो
Dr Archana Gupta
बाबूजी।
बाबूजी।
Anil Mishra Prahari
आड़ी तिरछी पंक्तियों को मान मिल गया,
आड़ी तिरछी पंक्तियों को मान मिल गया,
Satish Srijan
* धन्य अयोध्याधाम है *
* धन्य अयोध्याधाम है *
surenderpal vaidya
फितरत
फितरत
Srishty Bansal
सवैया छंदों के नाम व मापनी (सउदाहरण )
सवैया छंदों के नाम व मापनी (सउदाहरण )
Subhash Singhai
ठहर गया
ठहर गया
sushil sarna
दोहे- साँप
दोहे- साँप
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
असफलता का घोर अन्धकार,
असफलता का घोर अन्धकार,
Yogi Yogendra Sharma : Motivational Speaker
तंबाकू खाता रहा , जाने किस को कौन (कुंडलिया)
तंबाकू खाता रहा , जाने किस को कौन (कुंडलिया)
Ravi Prakash
विरह
विरह
Neelam Sharma
" कू कू "
Dr Meenu Poonia
कर्मयोगी संत शिरोमणि गाडगे
कर्मयोगी संत शिरोमणि गाडगे
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
मुश्किलें जरूर हैं, मगर ठहरा नहीं हूँ मैं ।
मुश्किलें जरूर हैं, मगर ठहरा नहीं हूँ मैं ।
पूर्वार्थ
Loading...