Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
8 Oct 2016 · 1 min read

भजन

आइ जइयो श्याम माखन खाने
—————————————-
आइ जइयो श्याम माखन खाने-2
माखन खाने दिल वहलाने ।। आइ जइयो………..
हम बाट जोहती रहती हैं,
अखियाँ असुअन से बहती हैं ।
लोचन दरसन के ललचाने ।। आइ जइयो………..
बिन समझे तुमसे नेह किया ,
परवस तुमसे स्नेह किया ।
मन माने नहिं बहु समझाने ।। आइ जइयो……….
ये जीवन तुमको सोंप दिया ,
हिय में प्रेम पौधा रोप दिया ।
आइ जइयो श्याम निक दिल लगाने।। आइ जइय
तुमने हमरा चित चोर लिया ,
दुनिया से नाता तोर दिया ।
आइ जइयो श्याम कृपा बरसाने।। आइ जइयो….
सुधि में गउयें भी रँभाइ रहीं ,
गये हो तब से नहिं खाइ रहीं ।
आइ जइयो श्याम गउऐं चराने ।।आइ जइयो……
मोरों ने नाचना छोड़ दिया ,
जीवन से नाता तोड़ दिया ।
आइ जइयो मोर मुकुट बँधवाने ।। आइ जइयो….
जड़ – चेतन सब अकुलाइ रहे,
नहिं करि रहे कछु नहिं खाइ रहे ।
आइ जइयो धीर नेंक धरवाने ।। आइ जइयो…….
करि कृपा हमरो मन लै जाओ,
तन धन जीवन भी ले जाओ।
आइ जइयो श्याम नेंक हर्षाने ।।आइ जइयो…….
गोप- गोपी सब सुधि बुधि भूले,
बेसुधि लगि रहे लंगड़े लूले ।
आइ जइयो श्याम सुधि बँधवाने ।। आइ जइयो ..
:- डाँ0 तेज स्वरूप भारद्वाज

Language: Hindi
512 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
सुबह होने को है साहब - सोने का टाइम हो रहा है
सुबह होने को है साहब - सोने का टाइम हो रहा है
Atul "Krishn"
रहता हूँ  ग़ाफ़िल, मख़लूक़ ए ख़ुदा से वफ़ा चाहता हूँ
रहता हूँ ग़ाफ़िल, मख़लूक़ ए ख़ुदा से वफ़ा चाहता हूँ
Mohd Anas
*भगवान के नाम पर*
*भगवान के नाम पर*
Dushyant Kumar
"प्रेमको साथी" (Premko Sathi) "Companion of Love"
Sidhartha Mishra
टीवी देखना बंद
टीवी देखना बंद
Shekhar Chandra Mitra
बोलो बोलो हर हर महादेव बोलो
बोलो बोलो हर हर महादेव बोलो
gurudeenverma198
न दिल किसी का दुखाना चाहिए
न दिल किसी का दुखाना चाहिए
नूरफातिमा खातून नूरी
एक पीर उठी थी मन में, फिर भी मैं चीख ना पाया ।
एक पीर उठी थी मन में, फिर भी मैं चीख ना पाया ।
आचार्य वृन्दान्त
इतना ही बस रूठिए , मना सके जो कोय ।
इतना ही बस रूठिए , मना सके जो कोय ।
Manju sagar
प्रीति के दोहे, भाग-2
प्रीति के दोहे, भाग-2
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
हमें भी देख जिंदगी,पड़े हैं तेरी राहों में।
हमें भी देख जिंदगी,पड़े हैं तेरी राहों में।
Surinder blackpen
देश के दुश्मन सिर्फ बॉर्डर पर ही नहीं साहब,
देश के दुश्मन सिर्फ बॉर्डर पर ही नहीं साहब,
राजेश बन्छोर
कविता: स्कूल मेरी शान है
कविता: स्कूल मेरी शान है
Rajesh Kumar Arjun
खेल भावनाओं से खेलो, जीवन भी है खेल रे
खेल भावनाओं से खेलो, जीवन भी है खेल रे
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
“बदलते रिश्ते”
“बदलते रिश्ते”
पंकज कुमार कर्ण
⚘️🌾गीता के प्रति मेरी समझ🌱🌷
⚘️🌾गीता के प्रति मेरी समझ🌱🌷
Ms.Ankit Halke jha
3033.*पूर्णिका*
3033.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
कोरोना चालीसा
कोरोना चालीसा
नंदलाल सिंह 'कांतिपति'
लोहा ही नहीं धार भी उधार की उनकी
लोहा ही नहीं धार भी उधार की उनकी
Dr MusafiR BaithA
रखता पैतृक एलबम , पावन पुत्र सँभाल (कुंडलिया)
रखता पैतृक एलबम , पावन पुत्र सँभाल (कुंडलिया)
Ravi Prakash
तू तो सब समझता है ऐ मेरे मौला
तू तो सब समझता है ऐ मेरे मौला
SHAMA PARVEEN
चंद्रयान 3
चंद्रयान 3
बिमल तिवारी “आत्मबोध”
"आत्मकथा"
Rajesh vyas
*पहले वाले  मन में हैँ ख़्यालात नहीं*
*पहले वाले मन में हैँ ख़्यालात नहीं*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
#प्रयोगात्मक_कविता-
#प्रयोगात्मक_कविता-
*Author प्रणय प्रभात*
बाहर-भीतर
बाहर-भीतर
Dhirendra Singh
जीवन अगर आसान नहीं
जीवन अगर आसान नहीं
Dr.Rashmi Mishra
नदियां जो सागर में जाती उस पाणी की बात करो।
नदियां जो सागर में जाती उस पाणी की बात करो।
सत्येन्द्र पटेल ‘प्रखर’
लक्ष्य
लक्ष्य
Suraj Mehra
कोई अपना नहीं है
कोई अपना नहीं है
Dr fauzia Naseem shad
Loading...