Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
22 May 2024 · 1 min read

बारिश

याद तो उसकी बहुत आती है,
पर कुछ मजबूरी आड़े आती है,
बहुत कुछ कहना चाहे दिल,
पर एक दूरी साथ आती है
माना कि वो समझ लेता सब कुछ,
पर कह देने से इक राहत आती है…,
क्या कहे क्या न् कहे ,
ये तोड़ के बंधन ,
बस जज़्बात की आंधी आती है,
कहते हैं जिस्मों से भी क्या मिलना..,
पर उसकी खुशबू से न जाने क्यों?
कैसी ये आवारगी आती हैं?
छु कर भी छु नही सकते
फिर भी मिल सकूँ उनसे
चाहत की ऐसी बारिश आती है।
पूनम कुमारी (आगाज ये दिल)

Language: Hindi
1 Like · 30 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
अब तो तुम्हारी मांग में सिंदूर भरने के बाद ही,
अब तो तुम्हारी मांग में सिंदूर भरने के बाद ही,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
यह दुनिया समझती है, मै बहुत गरीब हुँ।
यह दुनिया समझती है, मै बहुत गरीब हुँ।
Anil chobisa
सबको   सम्मान दो ,प्यार  का पैगाम दो ,पारदर्शिता भूलना नहीं
सबको सम्मान दो ,प्यार का पैगाम दो ,पारदर्शिता भूलना नहीं
DrLakshman Jha Parimal
सत्य प्रेम से पाएंगे
सत्य प्रेम से पाएंगे
महेश चन्द्र त्रिपाठी
जानता हूं
जानता हूं
इंजी. संजय श्रीवास्तव
आसानी से कोई चीज मिल जाएं
आसानी से कोई चीज मिल जाएं
शेखर सिंह
दुनिया असाधारण लोगो को पलको पर बिठाती है
दुनिया असाधारण लोगो को पलको पर बिठाती है
ruby kumari
2594.पूर्णिका
2594.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
नवल प्रभात में धवल जीत का उज्ज्वल दीप वो जला गया।
नवल प्रभात में धवल जीत का उज्ज्वल दीप वो जला गया।
Neelam Sharma
चलो♥️
चलो♥️
Srishty Bansal
हमे अब कहा फिक्र जमाने की है
हमे अब कहा फिक्र जमाने की है
पूर्वार्थ
रूठ जा..... ये हक है तेरा
रूठ जा..... ये हक है तेरा
सिद्धार्थ गोरखपुरी
// प्रीत में //
// प्रीत में //
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
Lamhon ki ek kitab hain jindagi ,sanso aur khayalo ka hisab
Lamhon ki ek kitab hain jindagi ,sanso aur khayalo ka hisab
Sampada
24)”मुस्करा दो”
24)”मुस्करा दो”
Sapna Arora
*डॉक्टर किशोरी लाल: एक मुलाकात*
*डॉक्टर किशोरी लाल: एक मुलाकात*
Ravi Prakash
नूतन वर्ष
नूतन वर्ष
Madhavi Srivastava
सुविचार
सुविचार
Sanjeev Kumar mishra
"परिपक्वता"
Dr Meenu Poonia
उम्र आते ही ....
उम्र आते ही ....
sushil sarna
आज यादों की अलमारी खोली
आज यादों की अलमारी खोली
Rituraj shivem verma
जीवन का आत्मबोध
जीवन का आत्मबोध
ओंकार मिश्र
मेरी ज़िंदगी की खुशियां
मेरी ज़िंदगी की खुशियां
Dr fauzia Naseem shad
हिंदू धर्म आ हिंदू विरोध।
हिंदू धर्म आ हिंदू विरोध।
Acharya Rama Nand Mandal
एक तरफा दोस्ती की कीमत
एक तरफा दोस्ती की कीमत
SHAMA PARVEEN
■ बड़ा सच...
■ बड़ा सच...
*प्रणय प्रभात*
जुते की पुकार
जुते की पुकार
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
रामभक्त संकटमोचक जय हनुमान जय हनुमान
रामभक्त संकटमोचक जय हनुमान जय हनुमान
gurudeenverma198
" हैं पलाश इठलाये "
भगवती प्रसाद व्यास " नीरद "
"गलत"
Dr. Kishan tandon kranti
Loading...