Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
17 Feb 2017 · 1 min read

बाबुल मेरे मत मार मुझे

बाबुल मेरे मत मार मुझे
मुझको संसार में आना है
मैं बोझ नहीं हु जगबालो आकरके मुझे बताना है

बेटे की चाहत मैं मुझको ,क्यों गर्व मैं ही मरवाते हो
सोचो गर हम नहीं रही ,बेटे को बहु भी लाना है ..

तुम भी तो किसी की कोख मैं थे ,वो माँ भी तो एक नारी है ,
नारी है तो नारायण है ,संसार को ये बतलाना है ….

भाई की कलाई सूनी है ,बिन बहिन कहा रक्षाबंधन
बेटी है तो घर रौनक है ,बिटिया खुशियो का खजाना है …

जिसके संग तेरे फेरे है पड़े ,जो पग पग तेरी साथी है
सम्मान करो उस नारी का ,जीवन जिस संग बिताना है …

बेटी बेटो से कम तो नहीं ,बेटी हर वर्ग मैं आगे है
करे ईर्ष्या द्वेष निरादर जो ऐसे नर बड़े अभागे है
कवी राज कहे सुन जगबालो बेटी को खूब पढ़ाना है ,,

Language: Hindi
714 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
Dear me
Dear me
पूर्वार्थ
कोरोना का संहार
कोरोना का संहार
Dr. Pradeep Kumar Sharma
KRISHANPRIYA
KRISHANPRIYA
Gunjan Sharma
Thought
Thought
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
महानगर की जिंदगी और प्राकृतिक परिवेश
महानगर की जिंदगी और प्राकृतिक परिवेश
कार्तिक नितिन शर्मा
कुछ लोग गुलाब की तरह होते हैं।
कुछ लोग गुलाब की तरह होते हैं।
Srishty Bansal
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
DR ARUN KUMAR SHASTRI
बचपन में थे सवा शेर जो
बचपन में थे सवा शेर जो
VINOD CHAUHAN
2293.पूर्णिका
2293.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
जीवनसंगिनी सी साथी ( शीर्षक)
जीवनसंगिनी सी साथी ( शीर्षक)
AMRESH KUMAR VERMA
मरने से पहले / मुसाफ़िर बैठा
मरने से पहले / मुसाफ़िर बैठा
Dr MusafiR BaithA
*धन्य-धन्य वह जीवन जो, श्री राम-नाम भज जीता है 【मुक्तक】*
*धन्य-धन्य वह जीवन जो, श्री राम-नाम भज जीता है 【मुक्तक】*
Ravi Prakash
कहमुकरी
कहमुकरी
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
होके रहेगा इंक़लाब
होके रहेगा इंक़लाब
Shekhar Chandra Mitra
एक टऽ खरहा एक टऽ मूस
एक टऽ खरहा एक टऽ मूस
डॉ. श्री रमण 'श्रीपद्'
याद  में  ही तो जल रहा होगा
याद में ही तो जल रहा होगा
Sandeep Gandhi 'Nehal'
"हँसिया"
Dr. Kishan tandon kranti
💐प्रेम कौतुक-402💐
💐प्रेम कौतुक-402💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
रख हौसला, कर फैसला, दृढ़ निश्चय के साथ
रख हौसला, कर फैसला, दृढ़ निश्चय के साथ
Krishna Manshi
कर दिया समर्पण सब कुछ तुम्हे प्रिय
कर दिया समर्पण सब कुछ तुम्हे प्रिय
Ram Krishan Rastogi
और कितना मुझे ज़िंदगी
और कितना मुझे ज़िंदगी
Shweta Soni
#दोहा-
#दोहा-
*Author प्रणय प्रभात*
🙏😊🙏
🙏😊🙏
Neelam Sharma
शराब
शराब
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
ए जिंदगी तू सहज या दुर्गम कविता
ए जिंदगी तू सहज या दुर्गम कविता
Shyam Pandey
जीवन का हर एक खट्टा मीठा अनुभव एक नई उपयोगी सीख देता है।इसील
जीवन का हर एक खट्टा मीठा अनुभव एक नई उपयोगी सीख देता है।इसील
ओम प्रकाश श्रीवास्तव
क्यों हो गया अब हमसे खफ़ा
क्यों हो गया अब हमसे खफ़ा
gurudeenverma198
मन का जादू
मन का जादू
Otteri Selvakumar
मेरी ख़्वाहिश ने
मेरी ख़्वाहिश ने
Dr fauzia Naseem shad
जनगणना मे मैथिली / Maithili in Population Census / जय मैथिली
जनगणना मे मैथिली / Maithili in Population Census / जय मैथिली
Binit Thakur (विनीत ठाकुर)
Loading...