Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
1 May 2022 · 1 min read

बहन का जन्मदिन

चलें नाचे-गाएँ खुशियाँ मनाएं,
सदा खुश रहने की दे दुआएं,
धरा पर हुआ आगमन आज इनका,
चलें प्यारी बहन का जन्मदिन बनाएं।

आई वो लेकर खुशियाँ हजारों,
नाउम्मीद आँखों को दिखाए तारे,
सदा बनी हमसब के ज्योत जीवन की,
चलें प्यारी बहन का जन्मदिन मनाएं ।

फूल की तरह सदा मुस्कुराओ तुम,
तारों सी हरदम चमचमाओं तुम,
यश तुम्हारा हो उच्च पर्वत-सा,
जीवन में इतनी सफलता पाओ तुम ।

मन्नत थी रब से सुंदर खिलौने की,
थी दूआ ये दिल से पूरे परिवार की,
कहते हैं दिल की मुरादें होती पूरी,
खुदा ने की भेंट हमें एक सुंदर परी ।

✍️✍️✍️ खुशबू खातून
सारण, बिहार

Language: Hindi
4 Likes · 747 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
#निस्वार्थ-
#निस्वार्थ-
*Author प्रणय प्रभात*
नव दीप जला लो
नव दीप जला लो
Mukesh Kumar Sonkar
हे चाणक्य चले आओ
हे चाणक्य चले आओ
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
सम्मान
सम्मान
Paras Nath Jha
हावी दिलो-दिमाग़ पर, आज अनेकों रोग
हावी दिलो-दिमाग़ पर, आज अनेकों रोग
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
पीर
पीर
विनोद वर्मा ‘दुर्गेश’
दयालू मदन
दयालू मदन
Dr. Pradeep Kumar Sharma
💐अज्ञात के प्रति-132💐
💐अज्ञात के प्रति-132💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
जगन्नाथ रथ यात्रा
जगन्नाथ रथ यात्रा
Pooja Singh
चलो चलाए रेल।
चलो चलाए रेल।
Vedha Singh
#चाकलेटडे
#चाकलेटडे
सत्य कुमार प्रेमी
*नकली छत अच्छी लगती है(गीतिका)*
*नकली छत अच्छी लगती है(गीतिका)*
Ravi Prakash
पढ़ते है एहसासों को लफ्जो की जुबानी...
पढ़ते है एहसासों को लफ्जो की जुबानी...
पूर्वार्थ
अगर प्यार करना गुनाह है,
अगर प्यार करना गुनाह है,
Dr. Man Mohan Krishna
जिंदगी भी रेत का सच रहतीं हैं।
जिंदगी भी रेत का सच रहतीं हैं।
Neeraj Agarwal
When compactibility ends, fight beginns
When compactibility ends, fight beginns
Sakshi Tripathi
तुम्हारी यादों में सो जाऊं
तुम्हारी यादों में सो जाऊं
RAJA KUMAR 'CHOURASIA'
झूठी है यह सम्पदा,
झूठी है यह सम्पदा,
sushil sarna
इस तरह बदल गया मेरा विचार
इस तरह बदल गया मेरा विचार
gurudeenverma198
मत रो मां
मत रो मां
Shekhar Chandra Mitra
*अयोध्या के कण-कण में राम*
*अयोध्या के कण-कण में राम*
Vandna Thakur
भुनेश्वर सिन्हा कांग्रेस नेता छत्तीसगढ़ । Bhuneshwar sinha politician chattisgarh
भुनेश्वर सिन्हा कांग्रेस नेता छत्तीसगढ़ । Bhuneshwar sinha politician chattisgarh
Bhuneshwar sinha
प्रकाश पर्व
प्रकाश पर्व
Shashi kala vyas
हमने सबको अपनाया
हमने सबको अपनाया
Vandna thakur
हिंदी का सम्मान
हिंदी का सम्मान
Arti Bhadauria
कि हम हुआ करते थे इश्क वालों के वाक़िल कभी,
कि हम हुआ करते थे इश्क वालों के वाक़िल कभी,
Vishal babu (vishu)
उसका अपना कोई
उसका अपना कोई
Dr fauzia Naseem shad
*पानी केरा बुदबुदा*
*पानी केरा बुदबुदा*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
जो न कभी करते हैं क्रंदन, भले भोगते भोग
जो न कभी करते हैं क्रंदन, भले भोगते भोग
महेश चन्द्र त्रिपाठी
"गिरना, हारना नहीं है"
Dr. Kishan tandon kranti
Loading...