Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jun 14, 2016 · 1 min read

बच्चे नहीं जानते अभी

बच्चे नहीं जानते अभी
कि कैसे फूटती हैं यादें
मील के पत्थरों से
बच्चे यह भी नहीं जानते
कि किस तरह इंतजार करता है घर
ललक उठता है देहरी का मन
और किस तरह
झाँक उठती हैं मुँडेरें
बच्चे यह भी नहीं जानते
कि आंगन में लेटे
पिता की खामोशी कितना चीखती है
और रसोई में रोटी सेकतीं
माँ की उँगलियाँ
बार बार गर्म तवा कयों छू लेतीं हैं
ये सब तभी जानेंगे बच्चे
जब बरसों बाद लौटेंगे घर !

2 Comments · 339 Views
You may also like:
माहौल
AMRESH KUMAR VERMA
💝 जोश जवानी आये हाये 💝
DR ARUN KUMAR SHASTRI
हमारे शुभेक्षु पिता
Aditya Prakash
" बहू और बेटी "
Dr Meenu Poonia
मैं वफ़ा हूँ अपने वादे पर
gurudeenverma198
इन्तिजार तुम करना।
Taj Mohammad
अब तो इतवार भी
Krishan Singh
【26】**!** हम हिंदी हम हिंदुस्तान **!**
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
Once Again You Visited My Dream Town
Manisha Manjari
जीवन इनका भी है
Anamika Singh
ये दूरियां मिटा दो ना
Nitu Sah
🙏माॅं सिद्धिदात्री🙏
पंकज कुमार "कर्ण"
✍️✍️लफ्ज़✍️✍️
"अशांत" शेखर
इन नजरों के वार से बचना है।
Taj Mohammad
पिता की सीख
Anamika Singh
मानव तन
Rakesh Pathak Kathara
काबुल का दंश
डा. सूर्यनारायण पाण्डेय
" जीवित जानवर "
Dr Meenu Poonia
चेहरा अश्कों से नम था
Taj Mohammad
दिवस नहीं मनाये जाते हैं...!!!
Kanchan Khanna
"साहिल"
Dr. Alpa H. Amin
♡ चाय की तलब ♡
Dr. Alpa H. Amin
'फूल और व्यक्ति'
Vishnu Prasad 'panchotiya'
हंँसना तुम सीखो ।
Buddha Prakash
The Send-Off Moments
Manisha Manjari
हुस्न में आफरीन लगती हो
Dr.SAGHEER AHMAD SIDDIQUI
एहसासों का समन्दर लिए बैठा हूं।
Taj Mohammad
धागा भाव-स्वरूप, प्रीति शुभ रक्षाबंधन
Pt. Brajesh Kumar Nayak
" शिवोहम रिट्रीट "
Dr Meenu Poonia
पिताजी
विनोद शर्मा सागर
Loading...