Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
8 Mar 2023 · 1 min read

फेमस होने के खातिर ही ,

फेमस होने के खातिर ही ,
पापड़ कितने बेले थे।
गुरु बनाएं हमने कितने,
बन गए उनके चेले थे।।
पहचान हुई है आप सभी से,
कितने अर्से बाद में।
गुरुवर जब तक मिले नहीं,
तब तक रहे अकेले थे।।
राजेश व्यास अनुनय

1 Like · 420 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
"मां के यादों की लहर"
Krishna Manshi
ज़िंदगी के मर्म
ज़िंदगी के मर्म
Shyam Sundar Subramanian
काव्य की आत्मा और रीति +रमेशराज
काव्य की आत्मा और रीति +रमेशराज
कवि रमेशराज
#दोहा
#दोहा
*प्रणय प्रभात*
जल जंगल जमीन जानवर खा गया
जल जंगल जमीन जानवर खा गया
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
3346.⚘ *पूर्णिका* ⚘
3346.⚘ *पूर्णिका* ⚘
Dr.Khedu Bharti
*बदलाव की लहर*
*बदलाव की लहर*
sudhir kumar
🙏 गुरु चरणों की धूल🙏
🙏 गुरु चरणों की धूल🙏
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
जो लोग असफलता से बचते है
जो लोग असफलता से बचते है
पूर्वार्थ
*अयोध्या*
*अयोध्या*
Dr. Priya Gupta
लुगाई पाकिस्तानी रे
लुगाई पाकिस्तानी रे
gurudeenverma198
"संगीत"
Dr. Kishan tandon kranti
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
DR ARUN KUMAR SHASTRI
जुल्फें तुम्हारी फ़िर से सवारना चाहता हूँ
जुल्फें तुम्हारी फ़िर से सवारना चाहता हूँ
The_dk_poetry
रंजीत कुमार शुक्ल
रंजीत कुमार शुक्ल
Ranjeet kumar Shukla
जय भोलेनाथ ।
जय भोलेनाथ ।
Anil Mishra Prahari
प्रेरणा
प्रेरणा
Dr. Pradeep Kumar Sharma
बीज और बच्चे
बीज और बच्चे
Manu Vashistha
ईश्वर बहुत मेहरबान है, गर बच्चियां गरीब हों,
ईश्वर बहुत मेहरबान है, गर बच्चियां गरीब हों,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
हम जितने ही सहज होगें,
हम जितने ही सहज होगें,
लक्ष्मी सिंह
वक्त हालत कुछ भी ठीक नहीं है अभी।
वक्त हालत कुछ भी ठीक नहीं है अभी।
Manoj Mahato
*मौत आग का दरिया*
*मौत आग का दरिया*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
*उल्लू (बाल कविता)*
*उल्लू (बाल कविता)*
Ravi Prakash
Prastya...💐
Prastya...💐
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
अगर
अगर "स्टैच्यू" कह के रोक लेते समय को ........
Atul "Krishn"
हाइकु
हाइकु
अशोक कुमार ढोरिया
सर सरिता सागर
सर सरिता सागर
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
मैं अपनी खूबसूरत दुनिया में
मैं अपनी खूबसूरत दुनिया में
ruby kumari
सप्तपदी
सप्तपदी
Arti Bhadauria
*
*"ओ पथिक"*
Shashi kala vyas
Loading...