Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
28 May 2022 · 1 min read

फिर एक समस्या

हर रोज एक उलझन बनी रही
फिर एक समस्या खड़ी हुई
सब कुछ था सीदा सादा सा
बनती हुई बाते बिगड़ गई
हर पहलू को जब समझाया तो
उनके पहलू कुछ और ही थे
जितना संजीदा मैं खुद था
उतने संजीदा वो भी थे
कुछ कागज के टुकड़ों में
एक सुलझी गुत्थी उलझ गई
उनको अपना कुछ कहना था
मेरा अपना भी तो कुछ हित था
शायद दोनों ने ज्यादा सोच लिया
इसलिये ये उलझन बनी रही
फिर एक समस्या खड़ी हुई

Language: Hindi
4 Likes · 1 Comment · 354 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
हिन्दी हाइकु- शुभ दिपावली
हिन्दी हाइकु- शुभ दिपावली
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
सुदूर गाँव मे बैठा कोई बुजुर्ग व्यक्ति, और उसका परिवार जो खे
सुदूर गाँव मे बैठा कोई बुजुर्ग व्यक्ति, और उसका परिवार जो खे
Shyam Pandey
💐अज्ञात के प्रति-134💐
💐अज्ञात के प्रति-134💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
*सच्चे  गोंड और शुभचिंतक लोग...*
*सच्चे गोंड और शुभचिंतक लोग...*
नेताम आर सी
सुख दुख
सुख दुख
Sûrëkhâ Rãthí
"शब्द"
Dr. Kishan tandon kranti
मुक्तक...छंद पद्मावती
मुक्तक...छंद पद्मावती
डॉ.सीमा अग्रवाल
कोशिश मेरी बेकार नहीं जायेगी कभी
कोशिश मेरी बेकार नहीं जायेगी कभी
gurudeenverma198
मतदान
मतदान
Sanjay ' शून्य'
#ग़ज़ल :--
#ग़ज़ल :--
*Author प्रणय प्रभात*
नाथ मुझे अपनाइए,तुम ही प्राण आधार
नाथ मुझे अपनाइए,तुम ही प्राण आधार
कृष्णकांत गुर्जर
जन्म दिन
जन्म दिन
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
औरत का जीवन
औरत का जीवन
Dheerja Sharma
इंसानियत का कोई मजहब नहीं होता।
इंसानियत का कोई मजहब नहीं होता।
Rj Anand Prajapati
कर दिया
कर दिया
Dr fauzia Naseem shad
मैं बनना चाहता हूँ तुम्हारा प्रेमी,
मैं बनना चाहता हूँ तुम्हारा प्रेमी,
Dr. Man Mohan Krishna
ग़ज़ल
ग़ज़ल
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
ग्वालियर की बात
ग्वालियर की बात
पूर्वार्थ
चेहरे की तलाश
चेहरे की तलाश
Jeewan Singh 'जीवनसवारो'
Mahadav, mera WhatsApp number save kar lijiye,
Mahadav, mera WhatsApp number save kar lijiye,
Ankita Patel
बुगुन लियोसिचला Bugun leosichla
बुगुन लियोसिचला Bugun leosichla
Mohan Pandey
गांव की ख्वाइश है शहर हो जानें की और जो गांव हो चुके हैं शहर
गांव की ख्वाइश है शहर हो जानें की और जो गांव हो चुके हैं शहर
Soniya Goswami
एक बेरोजगार शायर
एक बेरोजगार शायर
Shekhar Chandra Mitra
जीवन की यह झंझावातें
जीवन की यह झंझावातें
Dr. Rajendra Singh 'Rahi'
2710.*पूर्णिका*
2710.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
जज़्बा क़ायम जिंदगी में
जज़्बा क़ायम जिंदगी में
Satish Srijan
गोलू देवता मूर्ति स्थापना समारोह ।
गोलू देवता मूर्ति स्थापना समारोह ।
श्याम सिंह बिष्ट
बच्चे कैसे कम करें, बच्चे घर की शान( कुंडलिया)
बच्चे कैसे कम करें, बच्चे घर की शान( कुंडलिया)
Ravi Prakash
Never trust people who tells others secret
Never trust people who tells others secret
Md Ziaulla
"बोलती आँखें"
पंकज कुमार कर्ण
Loading...