Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
11 Jul 2023 · 1 min read

फ़ितरत-ए-साँप

आप जहाँ पाँव रखोगे,
ये वहीँ अपनी पूँछ मानेंगे,
इनकी यही फ़ितरत है,
ये बिना डसे कहाँ मानेंगे।
आपकी साधारण लब्धि भी
इनके लिए कारण है एक,
विष-वमन कर देंगे,
वैसे है ये उदाहरण एक।
आपके एक-एक शब्द में
असंख्य अर्थ तलाशेंगे,
अपनी गढ़ी हुई स्क्रिप्ट में
ये आपको फांसेगे।
सिर्फ इनके गीत ही फाग हैं,
ये अपने सुर ही अलापेंगे,
अपने सुरों के मीटर पर
सबकी ग़ज़ल मापेंगे।
इनसे सहानुभूति भी
रखना बड़ा अभिशाप है,
यूँ समझिये आपके विरुद्ध ही
होंगे खड़े जैसे कि शाप है।
दोस्त और दुश्मनों का
फर्क कब करते हैं ये,
सिर्फ एक बाँट रखकर ही सबको
एक पलड़े में तौलते हैं ये।
जब कभी भी जान लो
कोई फितरती ऐसा आस-पास,
भूलकर भी गुजरो नहीं
उसकी छाया के भी पास।
वर्ना खा जायेंगे ये
डस-डस तेरे व्यक्तित्व को,
खुद मरेंगे डाह में
लेकर साथ में आपको।
बीस गज फासला रखो
सांड से, ये पढ़ा पुराण से,
नौटंकियाँ जीवन इनका जानो
पाला पड़ गया किसी भांड से।

(c)@ दीपक कुमार श्रीवास्तव “नील पदम्”

7 Likes · 198 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
View all
You may also like:
तुम्हें कब ग़ैर समझा है,
तुम्हें कब ग़ैर समझा है,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
सफलता
सफलता
Dr. Pradeep Kumar Sharma
कवनो गाड़ी तरे ई चले जिंदगी
कवनो गाड़ी तरे ई चले जिंदगी
आकाश महेशपुरी
आजमाना चाहिए था by Vinit Singh Shayar
आजमाना चाहिए था by Vinit Singh Shayar
Vinit kumar
रस्म
रस्म
जय लगन कुमार हैप्पी
महाप्रलय
महाप्रलय
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
विषय:- विजयी इतिहास हमारा।
विषय:- विजयी इतिहास हमारा।
Neelam Sharma
ये जो नखरें हमारी ज़िंदगी करने लगीं हैं..!
ये जो नखरें हमारी ज़िंदगी करने लगीं हैं..!
Hitanshu singh
ज़िन्दगी में सभी के कई राज़ हैं ।
ज़िन्दगी में सभी के कई राज़ हैं ।
Arvind trivedi
*गुरुओं से ज्यादा दिखते हैं, आज गुरूघंटाल(गीत)*
*गुरुओं से ज्यादा दिखते हैं, आज गुरूघंटाल(गीत)*
Ravi Prakash
न कुछ पानें की खुशी
न कुछ पानें की खुशी
Sonu sugandh
पेड़ और चिरैया
पेड़ और चिरैया
Saraswati Bajpai
जो वक़्त के सवाल पर
जो वक़्त के सवाल पर
Dr fauzia Naseem shad
ये बात पूछनी है - हरवंश हृदय....🖋️
ये बात पूछनी है - हरवंश हृदय....🖋️
हरवंश हृदय
"अवसाद"
Dr Meenu Poonia
💐प्रेम कौतुक-169💐
💐प्रेम कौतुक-169💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
चंद्रयान ३
चंद्रयान ३
प्रदीप कुमार गुप्ता
दिल ने दिल को दे दिया, उल्फ़त का पैग़ाम ।
दिल ने दिल को दे दिया, उल्फ़त का पैग़ाम ।
sushil sarna
" क़ैद में ज़िन्दगी "
Chunnu Lal Gupta
तात
तात
डॉ०छोटेलाल सिंह 'मनमीत'
कुछ तो होता है ना, जब प्यार होता है
कुछ तो होता है ना, जब प्यार होता है
Anil chobisa
करो सम्मान पत्नी का खफा संसार हो जाए
करो सम्मान पत्नी का खफा संसार हो जाए
VINOD CHAUHAN
न  सूरत, न  शोहरत, न  नाम  आता  है
न सूरत, न शोहरत, न नाम आता है
Anil Mishra Prahari
भूले बिसरे दिन
भूले बिसरे दिन
Pratibha Kumari
वो शख्स अब मेरा नहीं रहा,
वो शख्स अब मेरा नहीं रहा,
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
गुंडागर्दी
गुंडागर्दी
Shekhar Chandra Mitra
उमंग
उमंग
Akash Yadav
अच्छा कार्य करने वाला
अच्छा कार्य करने वाला
नेताम आर सी
एक पते की बात
एक पते की बात
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
दोहे
दोहे
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
Loading...