Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
7 Jun 2016 · 1 min read

प्रीत पर दोहे

दोहे
1
हमने अपनी प्रीत पर ,लिखे यहाँ जो गीत
सात सुरों में बाँध खुद , झूम गया संगीत
2
बादल पर लिख दे घटा , बारिश का तू गीत
रिमझिम के संगीत सँग , थिरकेगी फिर प्रीत
3
प्यारी ये दुनिया लगे, मिलता जब मनमीत
आँखों से पढ़ प्यार को , धड़कन गाती गीत
4
आज मुहब्बत प्यार का ,बदला कितना रूप
सह न सकें अब आँधियाँ ,और कड़ी ये धूप
5
चलो मुहब्बत नीर से, सींचें ये संसार
खिला फूल सद्भाव के , बीने सारे खार

डॉ अर्चना गुप्ता

1 Like · 2 Comments · 2431 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr Archana Gupta
View all
You may also like:
भीगी पलकें...
भीगी पलकें...
Naushaba Suriya
"विजेता"
Dr. Kishan tandon kranti
2430.पूर्णिका
2430.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
जिम्मेदारी और पिता (मार्मिक कविता)
जिम्मेदारी और पिता (मार्मिक कविता)
Dr. Kishan Karigar
जन्म हाथ नहीं, मृत्यु ज्ञात नहीं।
जन्म हाथ नहीं, मृत्यु ज्ञात नहीं।
Sanjay ' शून्य'
मैं आखिर उदास क्यों होउँ
मैं आखिर उदास क्यों होउँ
DrLakshman Jha Parimal
चांद पर चंद्रयान, जय जय हिंदुस्तान
चांद पर चंद्रयान, जय जय हिंदुस्तान
Vinod Patel
हम ख़्वाब की तरह
हम ख़्वाब की तरह
Dr fauzia Naseem shad
गजल
गजल
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
डॉ० रामबली मिश्र हरिहरपुरी का
डॉ० रामबली मिश्र हरिहरपुरी का
Rambali Mishra
नया दिन
नया दिन
Vandna Thakur
अंधभक्ति
अंधभक्ति
मनोज कर्ण
बुलंद हौंसले
बुलंद हौंसले
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
It's not always about the sweet kisses or romantic gestures.
It's not always about the sweet kisses or romantic gestures.
पूर्वार्थ
ख्वाहिशे  तो ताउम्र रहेगी
ख्वाहिशे तो ताउम्र रहेगी
Harminder Kaur
तुमको मिले जो गम तो हमें कम नहीं मिले
तुमको मिले जो गम तो हमें कम नहीं मिले
हरवंश हृदय
किसी भी व्यक्ति के अंदर वैसे ही प्रतिभाओं का जन्म होता है जै
किसी भी व्यक्ति के अंदर वैसे ही प्रतिभाओं का जन्म होता है जै
Rj Anand Prajapati
मां का हृदय
मां का हृदय
Dr. Pradeep Kumar Sharma
Love yourself
Love yourself
आकांक्षा राय
जिस नारी ने जन्म दिया
जिस नारी ने जन्म दिया
VINOD CHAUHAN
आप तो गुलाब है,कभी बबूल न बनिए
आप तो गुलाब है,कभी बबूल न बनिए
Ram Krishan Rastogi
"जंगल की सैर”
पंकज कुमार कर्ण
काश अभी बच्चा होता
काश अभी बच्चा होता
साहिल
जिसकी तस्दीक चाँद करता है
जिसकी तस्दीक चाँद करता है
Shweta Soni
#ग़ज़ल-
#ग़ज़ल-
*Author प्रणय प्रभात*
नेह का दीपक
नेह का दीपक
Arti Bhadauria
💐अज्ञात के प्रति-61💐
💐अज्ञात के प्रति-61💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
" मन भी लगे बवाली "
भगवती प्रसाद व्यास " नीरद "
सुता ये ज्येष्ठ संस्कृत की,अलंकृत भाल पे बिंदी।
सुता ये ज्येष्ठ संस्कृत की,अलंकृत भाल पे बिंदी।
Neelam Sharma
🥀*अज्ञानीकी कलम*🥀
🥀*अज्ञानीकी कलम*🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
Loading...