Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
25 Jul 2016 · 1 min read

पूस की इस चांदनी रात

पूस की इस चांदनी रात
तुम चलोगी
कुछ दूर साथ?
जवानी के जिस रस्ते पर
मै चल रहा था
वो मुझे सपने में ले जा रहा था
मेरे पास साहस नहीं था
ये सवाल तुमसे पूछने का
तुम चलोगी
कुछ दूर साथ?

तुमने मुझे देखा,
मैंने तुम्हे देखा
मेरे चेहरे पर डर था
तुमसे दुबारा न मिल सकने का
मै तुम्हारे नाक पर
बने उस तिल को देखता रहा
गहरा और विराट
तुम्हारे मखमली
सफ़ेद सूट को देखता रहा
पूस की इस चांदनी रात
पर पूछ न सका
तुम चलोगी
कुछ दूर साथ?
मै भी नहीं बोला तुमसे
हम शायद हैरान थे
पूस की इस चांदनी रात
क्योंकि,चल पड़े थे
कुछ दूर साथ..
रात बहुत हो चुकी थी
ज़िन्दगी को जी रहे थे
तुम्हे मुझसे प्यार हो गया
बस इस रात
तो मान लो मेरी बात
चलते रहो साथ-साथ
कुछ दूर साथ
मै देखता रहूँ
तुम्हारे नाक के कोमल काले तिल को
और चलता रहूँ
तुम्हारे साथ…
दिन,सप्ताह,
माह,साल,
हज़ार साल…
कुछ दूर साथ…..

सुनील पुष्करणा

Language: Hindi
Tag: कविता
354 Views
You may also like:
✍️खलबली✍️
'अशांत' शेखर
"शादी की वर्षगांठ"
rubichetanshukla रुबी चेतन शुक्ला
उसकी दाढ़ी का राज
gurudeenverma198
किताबों की वापसी
Shekhar Chandra Mitra
ग़ज़ल
Anis Shah
आसमान से ऊपर और जमीं के नीचे
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
Love song
श्याम सिंह बिष्ट
बाबा की धूल
Dr. Arti 'Lokesh' Goel
उसे चाहना
Nitu Sah
"छत्रपति शिवाजी महाराज की गौभक्ति"
Pravesh Shinde
समय ।
Kanchan sarda Malu
किसी का भाई ,किसी का जान
Nishant prakhar
💐💐प्रेम की राह पर-61💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
हसरतें थीं...
Dr. Meenakshi Sharma
प्रतीक्षा करना पड़ता।
विजय कुमार 'विजय'
ज़िंदगी का हीरो
AMRESH KUMAR VERMA
“पिया” तुम बिन
DESH RAJ
मैं आखिरी सफर पे हूँ
VINOD KUMAR CHAUHAN
पिता का प्रेम
Seema gupta ( bloger) Gupta
*"यूँ ही कुछ भी नही बदलता"*
Shashi kala vyas
पाँव में छाले पड़े हैं....
डॉ.सीमा अग्रवाल
परी
Alok Saxena
यह दुनियाँ
Anamika Singh
समझना आपको है
Dr fauzia Naseem shad
Revenge shayari
★ IPS KAMAL THAKUR ★
जीवन की सोच/JIVAN Ki SOCH
Shivraj Anand
A poor little girl
Buddha Prakash
*अध्यात्म ज्योति* : वर्ष 53 अंक 1, जनवरी-जून 2020
Ravi Prakash
पिता ईश्वर का दूसरा रूप है।
Taj Mohammad
" बहू और बेटी "
Dr Meenu Poonia
Loading...