Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
17 Jun 2016 · 1 min read

पुण्यपताका ले के

क्या कहीं पुष्प खिला पुण्यपताका ले के।
कौन है आज मिला पुण्यपताका ले के।।

आसुरी वृत्ति बढ़ी भोग बढ़ा है जैसे,
गिर गया मित्र! क़िला पुण्यपताका ले के।।

स्वार्थ है लोभ बढ़ा, और बढ़ा मत्सर भी,
प्रेम का भाव छिला पुण्यपताका ले के।।

दीन का एक सहारा न बना है कोई,
खो गयी शुभ्र इला पुण्यपताका ले के।।

‘आशु’ को मोल लिया, तोल लिया कंचन ने,
धर्म का चित्त हिला पुण्यपताका ले के।।
रचनाकार
डॉ आशुतोष वाजपेयी
ज्योतिषाचार्य
लखनऊ

297 Views
You may also like:
तनिक पास आ तो सही...!
Dr. Pratibha Mahi
कविता 100 संग्रह
श्याम सिंह बिष्ट
गणपति वंदना (कैसे तेरा करूँ विसर्जन)
Dr Archana Gupta
ज़िक्र तेरा लबों पे क्या आया
Dr fauzia Naseem shad
संघर्ष
Sushil chauhan
जज़्बातों की धुंध, जब दिलों को देगा देती है, मेरे...
Manisha Manjari
सुबह आंख लग गई
Ashwani Kumar Jaiswal
बद्दुआ बन गए है।
Taj Mohammad
-पहले आत्मसम्मान फिर सबका सम्मान
Seema gupta ( bloger) Gupta
बाल कहानी- बाल विवाह
SHAMA PARVEEN
जीने की वजह
Seema 'Tu hai na'
एक बावली सी लड़की
Faza Saaz
" COMMUNICATION GAP AMONG FRIENDS "
DrLakshman Jha Parimal
कौन बोलेगा
दशरथ रांकावत 'शक्ति'
पाकीज़ा इश्क़
VINOD KUMAR CHAUHAN
मुखौटा
संदीप सागर (चिराग)
🐾🐾अपने नक़्शे पा पर तुम्हें खोज रहा हूँ🐾🐾
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
घोर अंधेरा ................
Kavita Chouhan
अवाम का बदला
Shekhar Chandra Mitra
आख़िरी मुलाक़ात
N.ksahu0007@writer
✍️बचपन से पचपन तक✍️
'अशांत' शेखर
अपना राह तुम खुद बनाओ
Anamika Singh
मुहब्बत और इबादत
shabina. Naaz
✍️क्या सीखा ✍️
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
*चुहियादानी (बाल कहानी)*
Ravi Prakash
शिव स्तुति
मनोज कर्ण
रुद्रा
Utkarsh Dubey “Kokil”
पैसा बोलता है...
Dr. Rajendra Singh 'Rahi'
प्रश्न
विजय कुमार 'विजय'
"पति परमेश्वर "
Dr Meenu Poonia
Loading...