Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
15 Apr 2023 · 1 min read

पीड़ित करती न तलवार की धार उतनी जितनी शब्द की कटुता कर जाती

पीड़ित करती न तलवार की धार उतनी जितनी शब्द की कटुता कर जाती है,
किसी वस्तु के लिए लोभ की भावना उतना न सताती जितना ईश्वर दर्शन की इच्छा की जिजीविषा मड़ोरती है।
भुजंग द्वारा उगली हुई विष आत्मा को कष्ट उतना न पहुँचा सकती जितना प्रियजन की गद्दारी घोंप जाती है।

2 Likes · 446 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
बुजुर्गो को हल्के में लेना छोड़ दें वो तो आपकी आँखों की भाषा
बुजुर्गो को हल्के में लेना छोड़ दें वो तो आपकी आँखों की भाषा
DrLakshman Jha Parimal
लोकतंत्र बस चीख रहा है
लोकतंत्र बस चीख रहा है
अनिल कुमार निश्छल
माँ सरस्वती
माँ सरस्वती
Mamta Rani
2993.*पूर्णिका*
2993.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
काश - दीपक नील पदम्
काश - दीपक नील पदम्
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
DR ARUN KUMAR SHASTRI
यादों के सहारे कट जाती है जिन्दगी,
यादों के सहारे कट जाती है जिन्दगी,
Ram Krishan Rastogi
आकलन करने को चाहिए सही तंत्र
आकलन करने को चाहिए सही तंत्र
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
🙅DNA REPORT🙅
🙅DNA REPORT🙅
*प्रणय प्रभात*
সিগারেট নেশা ছিল না
সিগারেট নেশা ছিল না
Sakhawat Jisan
विद्यापति धाम
विद्यापति धाम
डॉ. श्री रमण 'श्रीपद्'
ये अमलतास खुद में कुछ ख़ास!
ये अमलतास खुद में कुछ ख़ास!
Neelam Sharma
क्या खोया क्या पाया
क्या खोया क्या पाया
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
गर्म स्वेटर
गर्म स्वेटर
Awadhesh Singh
साँप का जहर
साँप का जहर
मनोज कर्ण
दूध-जले मुख से बिना फूंक फूंक के कही गयी फूहड़ बात! / MUSAFIR BAITHA
दूध-जले मुख से बिना फूंक फूंक के कही गयी फूहड़ बात! / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
जिन्हें नशा था
जिन्हें नशा था
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
रमेशराज के विरोधरस दोहे
रमेशराज के विरोधरस दोहे
कवि रमेशराज
इक तमन्ना थी
इक तमन्ना थी
Dr. Pradeep Kumar Sharma
मेरा महबूब आ रहा है
मेरा महबूब आ रहा है
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
ज़िंदगी फिर भी हमें
ज़िंदगी फिर भी हमें
Dr fauzia Naseem shad
पन्नें
पन्नें
Abhinay Krishna Prajapati-.-(kavyash)
मंजिलें
मंजिलें
Santosh Shrivastava
मुहब्बत
मुहब्बत
अखिलेश 'अखिल'
तनहा विचार
तनहा विचार
Yash Tanha Shayar Hu
सत्य की खोज
सत्य की खोज
Prakash Chandra
*भारत नेपाल सम्बन्ध*
*भारत नेपाल सम्बन्ध*
Dushyant Kumar
मुस्कुराओ तो सही
मुस्कुराओ तो सही
अभिषेक पाण्डेय 'अभि ’
आरुष का गिटार
आरुष का गिटार
shivanshi2011
जिस आँगन में बिटिया चहके।
जिस आँगन में बिटिया चहके।
लक्ष्मी सिंह
Loading...