Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
2 Nov 2023 · 1 min read

पति पत्नी में परस्पर हो प्यार और सम्मान,

पति पत्नी में परस्पर हो प्यार और सम्मान,
तो खुशहाल है जिंदगी ।
एक दूजे के लिए दुआ के उठे हाथ,
वहीं है ईश्वर की सच्ची बंदगी।
अन्यथा इसके विपरित बर्बाद है जिंदगी ।

1 Like · 381 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from ओनिका सेतिया 'अनु '
View all
You may also like:
करता नहीं यह शौक तो,बर्बाद मैं नहीं होता
करता नहीं यह शौक तो,बर्बाद मैं नहीं होता
gurudeenverma198
धर्म के रचैया श्याम,नाग के नथैया श्याम
धर्म के रचैया श्याम,नाग के नथैया श्याम
कृष्णकांत गुर्जर
पिता की आंखें
पिता की आंखें
अभिषेक पाण्डेय 'अभि ’
हँस लो! आज  दर-ब-दर हैं
हँस लो! आज दर-ब-दर हैं
गुमनाम 'बाबा'
जिदंगी हर कदम एक नयी जंग है,
जिदंगी हर कदम एक नयी जंग है,
Sunil Maheshwari
खुशी पाने का जरिया दौलत हो नहीं सकता
खुशी पाने का जरिया दौलत हो नहीं सकता
नूरफातिमा खातून नूरी
*अयोध्या के कण-कण में राम*
*अयोध्या के कण-कण में राम*
Vandna Thakur
दूरियां ये जन्मों की, क्षण में पलकें मिटातीं है।
दूरियां ये जन्मों की, क्षण में पलकें मिटातीं है।
Manisha Manjari
2671.*पूर्णिका*
2671.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
*****देव प्रबोधिनी*****
*****देव प्रबोधिनी*****
Kavita Chouhan
क़त्ल कर गया तो क्या हुआ, इश्क़ ही तो है-
क़त्ल कर गया तो क्या हुआ, इश्क़ ही तो है-
Shreedhar
पराये सपने!
पराये सपने!
Saransh Singh 'Priyam'
फ़ानी
फ़ानी
Shyam Sundar Subramanian
*हमेशा जिंदगी की एक, सी कब चाल होती है (हिंदी गजल)*
*हमेशा जिंदगी की एक, सी कब चाल होती है (हिंदी गजल)*
Ravi Prakash
जिया ना जाए तेरे बिन
जिया ना जाए तेरे बिन
Basant Bhagawan Roy
शुभ रात्रि
शुभ रात्रि
ओम प्रकाश श्रीवास्तव
India is my national
India is my national
Rajan Sharma
बदलती जिंदगी की राहें
बदलती जिंदगी की राहें
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
"ना नौ टन तेल होगा,
*प्रणय प्रभात*
"असलियत"
Dr. Kishan tandon kranti
3. कुपमंडक
3. कुपमंडक
Rajeev Dutta
नज़र बचा कर चलते हैं वो मुझको चाहने वाले
नज़र बचा कर चलते हैं वो मुझको चाहने वाले
VINOD CHAUHAN
!! एक ख्याल !!
!! एक ख्याल !!
Swara Kumari arya
"ताले चाबी सा रखो,
सत्येन्द्र पटेल ‘प्रखर’
तुम्हारा इक ख्याल ही काफ़ी है
तुम्हारा इक ख्याल ही काफ़ी है
Aarti sirsat
पता पुष्प का दे रहे,
पता पुष्प का दे रहे,
sushil sarna
आप, मैं और एक कप चाय।
आप, मैं और एक कप चाय।
Urmil Suman(श्री)
कहां गए (कविता)
कहां गए (कविता)
Akshay patel
*ऐलान – ए – इश्क *
*ऐलान – ए – इश्क *
DR ARUN KUMAR SHASTRI
जीवन में अँधियारा छाया, दूर तलक सुनसान।
जीवन में अँधियारा छाया, दूर तलक सुनसान।
डॉ.सीमा अग्रवाल
Loading...