Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
5 Apr 2024 · 1 min read

पकड़ मजबूत रखना हौसलों की तुम “नवल” हरदम ।

पकड़ मजबूत रखना हौसलों की तुम “नवल” हरदम ।
बहाने से सदा मिलते हैं दुश्मन हो या फिर मुश्किल।।

47 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
"मेरे नाम की जय-जयकार करने से अच्‍छा है,
शेखर सिंह
तू है एक कविता जैसी
तू है एक कविता जैसी
Amit Pathak
चाय की चुस्की संग
चाय की चुस्की संग
Surinder blackpen
कुछ हकीकत कुछ फसाना और कुछ दुश्वारियां।
कुछ हकीकत कुछ फसाना और कुछ दुश्वारियां।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
"घर बनाने के लिए"
Dr. Kishan tandon kranti
कागज़ ए जिंदगी
कागज़ ए जिंदगी
Neeraj Agarwal
*देह का दबाव*
*देह का दबाव*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
■ क़तआ (मुक्तक)
■ क़तआ (मुक्तक)
*प्रणय प्रभात*
****हमारे मोदी****
****हमारे मोदी****
Kavita Chouhan
बड़ी मछली सड़ी मछली
बड़ी मछली सड़ी मछली
Dr MusafiR BaithA
हवाओं से कह दो, न तूफ़ान लाएं
हवाओं से कह दो, न तूफ़ान लाएं
Neelofar Khan
हृदय तूलिका
हृदय तूलिका
Kumud Srivastava
शरद
शरद
Tarkeshwari 'sudhi'
माता की महिमा
माता की महिमा
SHAILESH MOHAN
ये हक़ीक़त
ये हक़ीक़त
Dr fauzia Naseem shad
हमको नहीं गम कुछ भी
हमको नहीं गम कुछ भी
gurudeenverma198
सबक ज़िंदगी पग-पग देती, इसके खेल निराले हैं।
सबक ज़िंदगी पग-पग देती, इसके खेल निराले हैं।
आर.एस. 'प्रीतम'
*आते हैं जग में सदा, जन्म-मृत्यु के मोड़ (कुंडलिया)*
*आते हैं जग में सदा, जन्म-मृत्यु के मोड़ (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
मातु काल रात्रि
मातु काल रात्रि
ओम प्रकाश श्रीवास्तव
बेपर्दा लोगों में भी पर्दा होता है बिल्कुल वैसे ही, जैसे हया
बेपर्दा लोगों में भी पर्दा होता है बिल्कुल वैसे ही, जैसे हया
Sanjay ' शून्य'
जितनी बार भी तुम मिली थी ज़िंदगी,
जितनी बार भी तुम मिली थी ज़िंदगी,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
वक्त लगता है
वक्त लगता है
Vandna Thakur
3254.*पूर्णिका*
3254.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
बाद के लिए कुछ भी मत छोड़ो
बाद के लिए कुछ भी मत छोड़ो
पूर्वार्थ
जयंती विशेष : अंबेडकर जयंती
जयंती विशेष : अंबेडकर जयंती
ब्रजनंदन कुमार 'विमल'
मेरे पिता मेरा भगवान
मेरे पिता मेरा भगवान
Nanki Patre
अच्छा कार्य करने वाला
अच्छा कार्य करने वाला
नेताम आर सी
"बिलखती मातृभाषा "
DrLakshman Jha Parimal
किसी को उदास देखकर
किसी को उदास देखकर
Shekhar Chandra Mitra
उनको घरों में भी सीलन आती है,
उनको घरों में भी सीलन आती है,
Dr. Akhilesh Baghel "Akhil"
Loading...