Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
2 Dec 2022 · 1 min read

निःशक्त, गरीब और यतीम को

निःशक्त, गरीब और यतीम को, अशकुनी कहना नहीं।
देखकर इनको राह में तुम, राह अपनी बदलना नहीं।।
निःशक्त, गरीब और यतीम को—————-।।

अभिमान तुम करना नहीं, अपनी शक्ल – सूरत पर।
हंसना नहीं कभी भी तुम,मजबूर और बदसूरत पर।।
स्थिर नहीं है समय का पहिया,नफरत इनसे करना नहीं।
निःशक्त, गरीब और यतीम को—————।।

उनके लिए भी करना प्रार्थना, जो है यतीम दुनिया में।
करना मदद उन लोगों की भी, जो है बेघर दुनिया में।।
आये अगर ये तुम्हारी दर, अपशब्द इनको कहना नहीं।
निःशक्त,गरीब और यतीम को—————–।।

निःशक्त भी तो इंसान है , घृणा से इनको देखो नहीं।
मजबूर ऐसे लोगों को तुम,धरती पे बोझ समझो नहीं।।
बांटों इनको अपनी खुशियाँ, अछूत इनको कहना नहीं।
निःशक्त, गरीब और यतीम को—————।।

शिक्षक एवं साहित्यकार-
गुरुदीन वर्मा उर्फ जी.आज़ाद
तहसील एवं जिला- बारां(राजस्थान)

Language: Hindi
Tag: गीत
1 Like · 202 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
..
..
*प्रणय प्रभात*
अम्बेडकरवादी हाइकु / मुसाफ़िर बैठा
अम्बेडकरवादी हाइकु / मुसाफ़िर बैठा
Dr MusafiR BaithA
हैवानियत के पाँव नहीं होते!
हैवानियत के पाँव नहीं होते!
Atul "Krishn"
कविता(प्रेम,जीवन, मृत्यु)
कविता(प्रेम,जीवन, मृत्यु)
Shiva Awasthi
परम प्रकाश उत्सव कार्तिक मास
परम प्रकाश उत्सव कार्तिक मास
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
डोरी बाँधे  प्रीति की, मन में भर विश्वास ।
डोरी बाँधे प्रीति की, मन में भर विश्वास ।
Mahendra Narayan
भारी पहाड़ सा बोझ कुछ हल्का हो जाए
भारी पहाड़ सा बोझ कुछ हल्का हो जाए
शेखर सिंह
मीठी वाणी
मीठी वाणी
Kavita Chouhan
" मैं सिंह की दहाड़ हूँ। "
Saransh Singh 'Priyam'
हमें सलीका न आया।
हमें सलीका न आया।
Taj Mohammad
सपना
सपना
Dr. Pradeep Kumar Sharma
भले ही शरीर में खून न हो पर जुनून जरूर होना चाहिए।
भले ही शरीर में खून न हो पर जुनून जरूर होना चाहिए।
Rj Anand Prajapati
चलो इश्क़ जो हो गया है मुझे,
चलो इश्क़ जो हो गया है मुझे,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
*चार दिवस का है पड़ाव, फिर नूतन यात्रा जारी (वैराग्य गीत)*
*चार दिवस का है पड़ाव, फिर नूतन यात्रा जारी (वैराग्य गीत)*
Ravi Prakash
फूल
फूल
Punam Pande
कश्मीर में चल रहे जवानों और आतंकीयो के बिच मुठभेड़
कश्मीर में चल रहे जवानों और आतंकीयो के बिच मुठभेड़
कुंवर तुफान सिंह निकुम्भ
शिव स्तुति
शिव स्तुति
ओम प्रकाश श्रीवास्तव
ऋतु शरद
ऋतु शरद
Sandeep Pande
अधूरी बात है मगर कहना जरूरी है
अधूरी बात है मगर कहना जरूरी है
नूरफातिमा खातून नूरी
"अभी" उम्र नहीं है
Rakesh Rastogi
मेरे दिल ओ जां में समाते जाते
मेरे दिल ओ जां में समाते जाते
Monika Arora
हम समुंदर का है तेज, वह झरनों का निर्मल स्वर है
हम समुंदर का है तेज, वह झरनों का निर्मल स्वर है
Shubham Pandey (S P)
BUTTERFLIES
BUTTERFLIES
Dhriti Mishra
तुम तो साजन रात के,
तुम तो साजन रात के,
sushil sarna
"जूते"
Dr. Kishan tandon kranti
2
2
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
होते फलित यदि शाप प्यारे
होते फलित यदि शाप प्यारे
Suryakant Dwivedi
बेशक हम गरीब हैं लेकिन दिल बड़ा अमीर है कभी आना हमारे छोटा स
बेशक हम गरीब हैं लेकिन दिल बड़ा अमीर है कभी आना हमारे छोटा स
Ranjeet kumar patre
कभी कभी जिंदगी
कभी कभी जिंदगी
Mamta Rani
धर्म या धन्धा ?
धर्म या धन्धा ?
SURYA PRAKASH SHARMA
Loading...