Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
14 Mar 2024 · 1 min read

नारी

कहीं मीरा बनी यह भक्ति का रसपान करती है
कहीं बन लक्ष्मी बाई वीरता का गान करती है
चली आई है कितने रूप धरते आज तक नारी
यही बन धाय पन्ना ममता भी कुर्बान करती है

डॉ अर्चना गुप्ता
14.03.2024

Language: Hindi
8 Likes · 3 Comments · 893 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr Archana Gupta
View all
You may also like:
मंत्र: श्वेते वृषे समारुढा, श्वेतांबरा शुचि:। महागौरी शुभ दध
मंत्र: श्वेते वृषे समारुढा, श्वेतांबरा शुचि:। महागौरी शुभ दध
Harminder Kaur
अश्लील वीडियो बनाकर नाम कमाने की कृत्य करने वाली बेटियों, सा
अश्लील वीडियो बनाकर नाम कमाने की कृत्य करने वाली बेटियों, सा
Anand Kumar
"विनती बारम्बार"
Dr. Kishan tandon kranti
*आओ-आओ योग करें सब (बाल कविता)*
*आओ-आओ योग करें सब (बाल कविता)*
Ravi Prakash
बेकसूर तुम हो
बेकसूर तुम हो
SUNIL kumar
प्रभात वर्णन
प्रभात वर्णन
Godambari Negi
हां मैं इक तरफ खड़ा हूं, दिल में कोई कश्मकश नहीं है।
हां मैं इक तरफ खड़ा हूं, दिल में कोई कश्मकश नहीं है।
Sanjay ' शून्य'
*** भाग्यविधाता ***
*** भाग्यविधाता ***
Chunnu Lal Gupta
जीवन एक और रिश्ते अनेक क्यों ना रिश्तों को स्नेह और सम्मान क
जीवन एक और रिश्ते अनेक क्यों ना रिश्तों को स्नेह और सम्मान क
Lokesh Sharma
आखिरी मोहब्बत
आखिरी मोहब्बत
Shivkumar barman
सुर्ख बिंदी
सुर्ख बिंदी
Awadhesh Singh
#मेरा_जीवन-
#मेरा_जीवन-
*प्रणय प्रभात*
एक कहानी- पुरानी यादें
एक कहानी- पुरानी यादें
Neeraj Agarwal
कोशिश है खुद से बेहतर बनने की
कोशिश है खुद से बेहतर बनने की
Ansh Srivastava
क्यूट हो सुंदर हो प्यारी सी लगती
क्यूट हो सुंदर हो प्यारी सी लगती
Jitendra Chhonkar
एक अजीब कशिश तेरे रुखसार पर ।
एक अजीब कशिश तेरे रुखसार पर ।
Phool gufran
कल जो रहते थे सड़क पर
कल जो रहते थे सड़क पर
Meera Thakur
फोन:-एक श्रृंगार
फोन:-एक श्रृंगार
पूर्वार्थ
लगा समंदर में डुबकी मनोयोग से
लगा समंदर में डुबकी मनोयोग से
Anamika Tiwari 'annpurna '
प्रेम की गहराई
प्रेम की गहराई
Dr Mukesh 'Aseemit'
सजल...छंद शैलजा
सजल...छंद शैलजा
डॉ.सीमा अग्रवाल
मिलेट/मोटा अनाज
मिलेट/मोटा अनाज
लक्ष्मी सिंह
अरुणोदय
अरुणोदय
Manju Singh
2319.पूर्णिका
2319.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
गले लोकतंत्र के नंगे / मुसाफ़िर बैठा
गले लोकतंत्र के नंगे / मुसाफ़िर बैठा
Dr MusafiR BaithA
सन्देश खाली
सन्देश खाली
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
नेता पलटू राम
नेता पलटू राम
Jatashankar Prajapati
अपनी सूरत
अपनी सूरत
Dr fauzia Naseem shad
सावन बीत गया
सावन बीत गया
Suryakant Dwivedi
हुआ क्या है
हुआ क्या है
Neelam Sharma
Loading...