Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
10 Dec 2023 · 1 min read

दौड़ते ही जा रहे सब हर तरफ

दौड़ते ही जा रहे सब हर तरफ
मंजिलों की सूचियां हैं अनगिनत
मिल गईं जो मंजिलें, ओझल हुईं
और कितनी शेष हैं मालुम नहीं

मन ने गर संतोष करना नहीं सीखा
जिंदगी भर यूं ही रहेगा दौड़ता
प्यास कैसे बुझ सकेगी पथिक की
घेर ले यदि मरुस्थल की मरीचिका

1 Like · 166 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
देती है सबक़ ऐसे
देती है सबक़ ऐसे
Dr fauzia Naseem shad
💐अज्ञात के प्रति-73💐
💐अज्ञात के प्रति-73💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
*कैसे हम आज़ाद हैं?*
*कैसे हम आज़ाद हैं?*
Dushyant Kumar
माँ
माँ
meena singh
आजाद लब
आजाद लब
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
तूफान सी लहरें मेरे अंदर है बहुत
तूफान सी लहरें मेरे अंदर है बहुत
कवि दीपक बवेजा
बीज और बच्चे
बीज और बच्चे
Manu Vashistha
“मेरे जीवन साथी”
“मेरे जीवन साथी”
DrLakshman Jha Parimal
अभी तक हमने
अभी तक हमने
*Author प्रणय प्रभात*
सुनो - दीपक नीलपदम्
सुनो - दीपक नीलपदम्
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
किसानों की दुर्दशा पर एक तेवरी-
किसानों की दुर्दशा पर एक तेवरी-
कवि रमेशराज
**** बातें दिल की ****
**** बातें दिल की ****
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
चुनाव 2024
चुनाव 2024
Bodhisatva kastooriya
उनके जख्म
उनके जख्म
'अशांत' शेखर
"सरकस"
Dr. Kishan tandon kranti
2498.पूर्णिका
2498.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
गलतियाँ हो गयीं होंगी
गलतियाँ हो गयीं होंगी
नंदलाल सिंह 'कांतिपति'
लोग एक दूसरे को परखने में इतने व्यस्त हुए
लोग एक दूसरे को परखने में इतने व्यस्त हुए
ruby kumari
सोनपुर के पनिया में का अईसन बाऽ हो - का
सोनपुर के पनिया में का अईसन बाऽ हो - का
जय लगन कुमार हैप्पी
क्वालिटी टाइम
क्वालिटी टाइम
Dr. Pradeep Kumar Sharma
कोई चोर है...
कोई चोर है...
Srishty Bansal
4-मेरे माँ बाप बढ़ के हैं भगवान से
4-मेरे माँ बाप बढ़ के हैं भगवान से
Ajay Kumar Vimal
कितना मुश्किल है केवल जीना ही ..
कितना मुश्किल है केवल जीना ही ..
Vivek Mishra
अपने योग्यता पर घमंड होना कुछ हद तक अच्छा है,
अपने योग्यता पर घमंड होना कुछ हद तक अच्छा है,
Aditya Prakash
तेरा मेरा रिस्ता बस इतना है की तुम l
तेरा मेरा रिस्ता बस इतना है की तुम l
Ranjeet kumar patre
"संघर्ष "
Yogendra Chaturwedi
प्यार ना सही पर कुछ तो था तेरे मेरे दरमियान,
प्यार ना सही पर कुछ तो था तेरे मेरे दरमियान,
Vishal babu (vishu)
निभा गये चाणक्य सा,
निभा गये चाणक्य सा,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
शोभा वरनि न जाए, अयोध्या धाम की
शोभा वरनि न जाए, अयोध्या धाम की
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
*पत्रिका समीक्षा*
*पत्रिका समीक्षा*
Ravi Prakash
Loading...