Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
10 Aug 2016 · 1 min read

दो आफ़ताब (शायरी)

आज दो गुलाब एक साथ देखे,
इतने हसीं ख्वाब एक साथ देखे।
दिल की धड़कन ही रुक गयी थी,
जब दो आफ़ताब एक साथ देखे।।

©® डॉ सुलक्षणा अहलावत

Language: Hindi
Tag: शेर
668 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
संविधान  की बात करो सब केवल इतनी मर्जी  है।
संविधान की बात करो सब केवल इतनी मर्जी है।
सत्येन्द्र पटेल ‘प्रखर’
आश भरी ऑखें
आश भरी ऑखें
Jeewan Singh 'जीवनसवारो'
*मैं वर्तमान की नारी हूं।*
*मैं वर्तमान की नारी हूं।*
Dushyant Kumar
"कर्ममय है जीवन"
Dr. Kishan tandon kranti
कलम वो तलवार है ,
कलम वो तलवार है ,
ओनिका सेतिया 'अनु '
"मुसव्विर ने सभी रंगों को
*Author प्रणय प्रभात*
परछाई
परछाई
Dr Parveen Thakur
क्यूँ ख़ामोशी पसरी है
क्यूँ ख़ामोशी पसरी है
हिमांशु Kulshrestha
मोह लेगा जब हिया को, रूप मन के मीत का
मोह लेगा जब हिया को, रूप मन के मीत का
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
किस लिए पास चले आए अदा किसकी थी
किस लिए पास चले आए अदा किसकी थी
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
उर्वशी कविता से...
उर्वशी कविता से...
Satish Srijan
कृष्ण जी के जन्म का वर्णन
कृष्ण जी के जन्म का वर्णन
Ram Krishan Rastogi
बगुले तटिनी तीर से,
बगुले तटिनी तीर से,
sushil sarna
प्रेरणादायक बाल कविता: माँ मुझको किताब मंगा दो।
प्रेरणादायक बाल कविता: माँ मुझको किताब मंगा दो।
Rajesh Kumar Arjun
दिलकश
दिलकश
Vandna Thakur
23/188.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/188.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
लोगों के साथ सामंजस्य स्थापित करना भी एक विशेष कला है,जो आपक
लोगों के साथ सामंजस्य स्थापित करना भी एक विशेष कला है,जो आपक
Paras Nath Jha
Live in Present
Live in Present
Satbir Singh Sidhu
सत्य संकल्प
सत्य संकल्प
Shaily
कड़वा सच
कड़वा सच
Sanjeev Kumar mishra
*अहमब्रह्मास्मि9*
*अहमब्रह्मास्मि9*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
विश्व पर्यावरण दिवस 5 जून 2023
विश्व पर्यावरण दिवस 5 जून 2023
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
" नारी का दुख भरा जीवन "
Surya Barman
जुते की पुकार
जुते की पुकार
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
ये एहतराम था मेरा कि उसकी महफ़िल में
ये एहतराम था मेरा कि उसकी महफ़िल में
Shweta Soni
तू इतनी खूबसूरत है...
तू इतनी खूबसूरत है...
आकाश महेशपुरी
इंसान जिन्हें
इंसान जिन्हें
Dr fauzia Naseem shad
*राम भक्ति नवधा बतलाते (कुछ चौपाइयॉं)*
*राम भक्ति नवधा बतलाते (कुछ चौपाइयॉं)*
Ravi Prakash
भरी महफिल
भरी महफिल
Vandna thakur
,,........,,
,,........,,
शेखर सिंह
Loading...