Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
5 Aug 2023 · 1 min read

दोहे – शीर्षक : समय

दोहे (समय)

कर मन सच्ची साधना , जीवन है उपहार ।
गँवा मनुज मत व्यर्थ ही , मिले न बारंबार ।।

मानव सच यह जान ले , समय बड़ा अनमोल ।
घड़ी घड़ी है बीतता , चले न टाल मटोल ।।

गति समय की नहीं रुके , चलती अपनी चाल ।
संग अगर उसके चलो , रखे सदा खुशहाल ।।

साथ समय के जो चले , साधे सभी निशान ।
सफल सदा ही वो रहे , हुआ जिसे यह ज्ञान ।।

समय बड़ा बलवान है , देता सभी जवाब ।
भले बुरे सब कर्म का , करता यही हिसाब ।।

समय एक है औषधी , भरता गहरे घाव ।
बड़े वेग से भागता , बिना दिखाये ताव ।।

जो नियमों को मानते , रहे समय अनुकूल ।
करते यदि अवमानना , हो जाता प्रतिकूल ।।

डाॅ रीता सिंह
चन्दौसी सम्भल

Language: Hindi
2 Likes · 126 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Rita Singh
View all
You may also like:
यह जनता है ,सब जानती है
यह जनता है ,सब जानती है
Bodhisatva kastooriya
कोई मिले जो  गले लगा ले
कोई मिले जो गले लगा ले
गुमनाम 'बाबा'
शिक्षा
शिक्षा
Neeraj Agarwal
★भारतीय किसान★
★भारतीय किसान★
★ IPS KAMAL THAKUR ★
प्रोफेसर ईश्वर शरण सिंहल का साहित्यिक योगदान (लेख)
प्रोफेसर ईश्वर शरण सिंहल का साहित्यिक योगदान (लेख)
Ravi Prakash
मुझको तो घर जाना है
मुझको तो घर जाना है
Karuna Goswami
प्रकृति में एक अदृश्य शक्ति कार्य कर रही है जो है तुम्हारी स
प्रकृति में एक अदृश्य शक्ति कार्य कर रही है जो है तुम्हारी स
Rj Anand Prajapati
किसानों की दुर्दशा पर एक तेवरी-
किसानों की दुर्दशा पर एक तेवरी-
कवि रमेशराज
नया साल
नया साल
Arvina
जिंदगी रूठ गयी
जिंदगी रूठ गयी
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
कितना खाली खालीपन है !
कितना खाली खालीपन है !
Saraswati Bajpai
बुंदेली दोहा-
बुंदेली दोहा- "पैचान" (पहचान) भाग-2
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
जल से निकली जलपरी
जल से निकली जलपरी
लक्ष्मी सिंह
अज़ल से इंतजार किसका है
अज़ल से इंतजार किसका है
Shweta Soni
सुप्रभातम
सुप्रभातम
Ravi Ghayal
मित्रता
मित्रता
जगदीश लववंशी
अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस
अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस
Dr. Kishan tandon kranti
बहुत अहमियत होती है लोगों की
बहुत अहमियत होती है लोगों की
शिव प्रताप लोधी
लड़कियों की जिंदगी आसान नहीं होती
लड़कियों की जिंदगी आसान नहीं होती
Adha Deshwal
जब होती हैं स्वार्थ की,
जब होती हैं स्वार्थ की,
sushil sarna
जिंदगी का सवेरा
जिंदगी का सवेरा
Dr. Man Mohan Krishna
शिक्षा मे भले ही पीछे हो भारत
शिक्षा मे भले ही पीछे हो भारत
शेखर सिंह
किसी की याद मे आँखे नम होना,
किसी की याद मे आँखे नम होना,
ऐ./सी.राकेश देवडे़ बिरसावादी
बारह ज्योतिर्लिंग
बारह ज्योतिर्लिंग
सत्य कुमार प्रेमी
मन काशी मन द्वारिका,मन मथुरा मन कुंभ।
मन काशी मन द्वारिका,मन मथुरा मन कुंभ।
विमला महरिया मौज
पैर, चरण, पग, पंजा और जड़
पैर, चरण, पग, पंजा और जड़
डॉ० रोहित कौशिक
जुगाड़
जुगाड़
Dr. Pradeep Kumar Sharma
प्रेम में कुछ भी असम्भव नहीं। बल्कि सबसे असम्भव तरीक़े से जि
प्रेम में कुछ भी असम्भव नहीं। बल्कि सबसे असम्भव तरीक़े से जि
ब्रजनंदन कुमार 'विमल'
यदि है कोई परे समय से तो वो तो केवल प्यार है
यदि है कोई परे समय से तो वो तो केवल प्यार है " रवि " समय की रफ्तार मेँ हर कोई गिरफ्तार है
Sahil Ahmad
मेरी देह बीमार मानस का गेह है / मुसाफ़िर बैठा
मेरी देह बीमार मानस का गेह है / मुसाफ़िर बैठा
Dr MusafiR BaithA
Loading...