Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
12 Feb 2024 · 1 min read

दोहे बिषय-सनातन/सनातनी

हिन्दी दोहा विषय – सनातन / सनातनी

सनातनी #राना सदा , है भारत की भूम |
वंदन करते सब यहाँ , माटी लेते चूम ||

सुने सनातन नाम जब , लेते नाक सिकोड़ |
#राना यह सब दुग्ध में, नींबू रहे निचोड़ ||

सनातनी यदि आपके, पुरखा रखते छाप |
तब बचकर जाना कहाँ, जहाँ छिपेगें आप ||?

भोजन पानी आचरण , सनातनी परिवेश |
#राना इसका केन्द्र है, सुंदर भारत देश ||

राम राज्य की कल्पना , सनातनी आधार |
#राना भारत देश है , जो कर दे साकार ||
***
✍️ राजीव नामदेव “राना लिधौरी”
संपादक “आकांक्षा” पत्रिका
संपादक- ‘अनुश्रुति’ त्रैमासिक बुंदेली ई पत्रिका
जिलाध्यक्ष म.प्र. लेखक संघ टीकमगढ़
अध्यक्ष वनमाली सृजन केन्द्र टीकमगढ़
नई चर्च के पीछे, शिवनगर कालोनी,
टीकमगढ़ (मप्र)-472001
मोबाइल- 9893520965
Email – ranalidhori@gmail.com

1 Like · 63 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
क्रिकेटी हार
क्रिकेटी हार
Sanjay ' शून्य'
साक्षात्कार-पीयूष गोयल(दर्पण छवि लेखक).
साक्षात्कार-पीयूष गोयल(दर्पण छवि लेखक).
Piyush Goel
काफी लोगो ने मेरे पढ़ने की तेहरिन को लेकर सवाल पूंछा
काफी लोगो ने मेरे पढ़ने की तेहरिन को लेकर सवाल पूंछा
पूर्वार्थ
आंगन महक उठा
आंगन महक उठा
Harminder Kaur
पेड़ काट निर्मित किए, घुटन भरे बहु भौन।
पेड़ काट निर्मित किए, घुटन भरे बहु भौन।
विमला महरिया मौज
हिंदी पखवाडा
हिंदी पखवाडा
Shashi Dhar Kumar
कलियों सा तुम्हारा यौवन खिला है।
कलियों सा तुम्हारा यौवन खिला है।
Rj Anand Prajapati
अगर बात तू मान लेगा हमारी।
अगर बात तू मान लेगा हमारी।
सत्य कुमार प्रेमी
कुंडलिया
कुंडलिया
दुष्यन्त 'बाबा'
** बहुत दूर **
** बहुत दूर **
surenderpal vaidya
यदि केवल बातों से वास्ता होता तो
यदि केवल बातों से वास्ता होता तो
Keshav kishor Kumar
2621.पूर्णिका
2621.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
बड़ी ठोकरो के बाद संभले हैं साहिब
बड़ी ठोकरो के बाद संभले हैं साहिब
Jay Dewangan
पाने की आशा करना यह एक बात है
पाने की आशा करना यह एक बात है
Ragini Kumari
■ सरस्वती वंदना ■
■ सरस्वती वंदना ■
*Author प्रणय प्रभात*
!! शब्द !!
!! शब्द !!
Akash Yadav
*संपूर्ण रामचरितमानस का पाठ : दैनिक रिपोर्ट*
*संपूर्ण रामचरितमानस का पाठ : दैनिक रिपोर्ट*
Ravi Prakash
हम थक हार कर बैठते नहीं ज़माने में।
हम थक हार कर बैठते नहीं ज़माने में।
Phool gufran
दारू की महिमा अवधी गीत
दारू की महिमा अवधी गीत
प्रीतम श्रावस्तवी
हम भी अगर बच्चे होते
हम भी अगर बच्चे होते
नूरफातिमा खातून नूरी
बुझा दीपक जलाया जा रहा है
बुझा दीपक जलाया जा रहा है
कृष्णकांत गुर्जर
हौसला
हौसला
डॉ. शिव लहरी
ईमानदारी
ईमानदारी
Dr. Pradeep Kumar Sharma
यथार्थ
यथार्थ
Shyam Sundar Subramanian
समझ
समझ
Dinesh Kumar Gangwar
-- क्लेश तब और अब -
-- क्लेश तब और अब -
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
"पहरा"
Dr. Kishan tandon kranti
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
Ghughat maryada hai, majburi nahi.
Ghughat maryada hai, majburi nahi.
Sakshi Tripathi
जितने धैर्यता, सहनशीलता और दृढ़ता के साथ संकल्पित संघ के स्व
जितने धैर्यता, सहनशीलता और दृढ़ता के साथ संकल्पित संघ के स्व
जय लगन कुमार हैप्पी
Loading...