Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

दिवाली

हर घर मे एक
उम्मीद का दिया जलने दो,
घर आंगन में
खुशियों की रंगोली बनने दो

आधार हो अपनो का
हर मुश्किल आसान हो
बेशर्त प्रेम भाव का
फूल मन आंगन में खिलने दो

नए भाव से, नए रंग से
रोशन जंहा को करते है
आनंद, उत्साह और मीठे का
तोरण हर द्वार पर सजने दो…

– प्रोफ़ेसर दिनेश गुप्ता (आनंदश्री)

2 Likes · 207 Views
You may also like:
खेलता ख़ुद आग से है
Shivkumar Bilagrami
शैशव की लयबद्ध तरंगे
Rashmi Sanjay
बेटियां।
Taj Mohammad
तमन्ना ए कल्ब।
Taj Mohammad
यादों की गठरी
Dr. Arti 'Lokesh' Goel
🌺प्रेम की राह पर-58🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
#धरती-सावन
आर.एस. 'प्रीतम'
हर इक वादे पर।
Taj Mohammad
सच
दुष्यन्त 'बाबा'
दिल का यह
Dr fauzia Naseem shad
अश्रु देकर खुद दिल बहलाऊं अरे मैं ऐसा इंसान नहीं
VINOD KUMAR CHAUHAN
फूल की ललक
Vijaykumar Gundal
यौवन अतिशय ज्ञान-तेजमय हो, ऐसा विज्ञान चाहिए
Pt. Brajesh Kumar Nayak
क्यों कहाँ चल दिये
gurudeenverma198
कठपुतली न बनना हमें
AMRESH KUMAR VERMA
मेरी बेटी मेरी सहेली
लक्ष्मी सिंह
दर्द इनका भी
Dr fauzia Naseem shad
तुम्हें जन्मदिन मुबारक हो
gurudeenverma198
✍️एक फ़रियाद..✍️
"अशांत" शेखर
मिलन की तड़प
Dr.Alpa Amin
उम्रें गुज़र गई हैं।
Taj Mohammad
अनवरत सी चलती जिंदगी और भागते हमारे कदम।
Manisha Manjari
गौरव है मेरा, बेटी मेरी
gurudeenverma198
मंजिल
AMRESH KUMAR VERMA
,बरसात और बाढ़'
Godambari Negi
रात गहरी हो रही है
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
माँ वाणी की वंदना
Prakash Chandra
दुनिया की रीति
AMRESH KUMAR VERMA
दया***
Prabhavari Jha
कुछ कहना है..
Vaishnavi Gupta
Loading...