Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
22 Dec 2022 · 1 min read

दिल के टूटने की सदाओं से वादियों को गुंजाती हैं, क्यूँकि खुशियाँ कहाँ मेरे मुक़द्दर को रास आती है।

कभी लबों पे दुआएं आने से डर जाती हैं,
जैसे रात सुबह की आहट से थम जाती है।
तुझे पाने की आरज़ू, सुकूं साँसों में लाती है,
पर हक़ीक़त में ये दूरी, ख़ौफ़ज़दा कर जाती है।
ख़्वाब ये जहन में, नए सफर का साथ लाती है,
फिर उन राहों के गुम होने का, भ्रम भी फैलाती है।
दिल के टूटने की सदाओं से वादियों को गुंजाती हैं,
क्यूँकि खुशियाँ कहाँ मेरे मुक़द्दर को रास आती है।
बेबजह ये दर्द फिर आँखों से बरस जाती है,
और अंधेरों में वो रौशनी कहीं दूर मुस्कुराती है।
बंधने को मेरे हर पल में, वो मीलों का सफ़र कर आती है,
और लम्हों के हर पल को तोड़ कर जीत जाती है।
ख़्वाब की हर ताबीर को, वो धड़कनें नयी दे जाती है,
और धुंधली तस्वीरों को नए रंगों में रंगती नज़र आती है।
साया बनकर साथ वो खामोशी से निभा जाती है,
इनायतें क़िस्मत की कुछ ऐसे हीं बरस जाती हैं।
घरौंदे सपनों के ये साथ मिलकर बनाती है,
पर संग रहने का ख़्याल, अधूरे ख़्वाब की तरह आँखें भींगा कर जाती है।

3 Likes · 234 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Manisha Manjari
View all
You may also like:
दिल हमारा तुम्हारा धड़कने लगा।
दिल हमारा तुम्हारा धड़कने लगा।
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
दुआएं
दुआएं
Santosh Shrivastava
चुनिंदा लघुकथाएँ
चुनिंदा लघुकथाएँ
Dr. Pradeep Kumar Sharma
उर्दू
उर्दू
Surinder blackpen
अफवाह एक ऐसा धुआं है को बिना किसी आग के उठता है।
अफवाह एक ऐसा धुआं है को बिना किसी आग के उठता है।
Rj Anand Prajapati
मैं छोटी नन्हीं सी गुड़िया ।
मैं छोटी नन्हीं सी गुड़िया ।
लक्ष्मी सिंह
मैं गर्दिशे अय्याम देखता हूं।
मैं गर्दिशे अय्याम देखता हूं।
Taj Mohammad
देखिए इतिहास की किताबो मे हमने SALT TAX के बारे मे पढ़ा है,
देखिए इतिहास की किताबो मे हमने SALT TAX के बारे मे पढ़ा है,
शेखर सिंह
भिखारी का बैंक
भिखारी का बैंक
Punam Pande
*दीवाली मनाएंगे*
*दीवाली मनाएंगे*
Seema gupta,Alwar
*मूलत: आध्यात्मिक व्यक्तित्व श्री जितेंद्र कमल आनंद जी*
*मूलत: आध्यात्मिक व्यक्तित्व श्री जितेंद्र कमल आनंद जी*
Ravi Prakash
पग बढ़ाते चलो
पग बढ़ाते चलो
surenderpal vaidya
#संशोधित_बाल_कविता
#संशोधित_बाल_कविता
*प्रणय प्रभात*
2715.*पूर्णिका*
2715.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
"ज्ञान रूपी दीपक"
Yogendra Chaturwedi
तुम क्या हो .....
तुम क्या हो ....." एक राजा "
Rohit yadav
वक्त यदि गुजर जाए तो 🧭
वक्त यदि गुजर जाए तो 🧭
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
अकिंचित ,असहाय और निरीह को सहानभूति की आवश्यकता होती है पर अ
अकिंचित ,असहाय और निरीह को सहानभूति की आवश्यकता होती है पर अ
DrLakshman Jha Parimal
"मछली"
Dr. Kishan tandon kranti
ज्ञान -दीपक
ज्ञान -दीपक
Pt. Brajesh Kumar Nayak
सच्चाई ~
सच्चाई ~
दिनेश एल० "जैहिंद"
देश आज 75वां गणतंत्र दिवस मना रहा,
देश आज 75वां गणतंत्र दिवस मना रहा,
पूर्वार्थ
*जय सियाराम राम राम राम...*
*जय सियाराम राम राम राम...*
Harminder Kaur
डर का घर / MUSAFIR BAITHA
डर का घर / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
The Profound Impact of Artificial Intelligence on Human Life
The Profound Impact of Artificial Intelligence on Human Life
Shyam Sundar Subramanian
मुहब्बत कुछ इस कदर, हमसे बातें करती है…
मुहब्बत कुछ इस कदर, हमसे बातें करती है…
Anand Kumar
वो भी तो ऐसे ही है
वो भी तो ऐसे ही है
gurudeenverma198
फादर्स डे ( Father's Day )
फादर्स डे ( Father's Day )
Atul "Krishn"
*भीड बहुत है लोग नहीं दिखते* ( 11 of 25 )
*भीड बहुत है लोग नहीं दिखते* ( 11 of 25 )
Kshma Urmila
बाबा भीमराव अम्बेडकर परिनिर्वाण दिवस
बाबा भीमराव अम्बेडकर परिनिर्वाण दिवस
Buddha Prakash
Loading...