Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
22 Aug 2016 · 1 min read

तुझ पर कुरबां…..

शहीदों की शहादत देख
आँखों से आँसू छलक पड़े,
पर गिरे न जमीं पर वो
आसमां पर लिपट गये,
शहीदों की सहादत देख
आँखों से आँसू छलक पड़े,
माँ की आँखों का तारा
आसमां का सितारा बन गया
दुलारा था माँ का वो
सबका राज दुलारा बन गया,
कुरबां कर कतरा कतरा खून का वो
एक मिसाल बन गया
भारत माँ की शान बन गया
माँ की आँखों का तारा
आसमां का सितारा बन गया

^*^*^*दिनेश शर्मा*^*^*^*

Language: Hindi
566 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
एक काफ़िर की दुआ
एक काफ़िर की दुआ
Shekhar Chandra Mitra
दीवारों की चुप्पी में राज हैं दर्द है
दीवारों की चुप्पी में राज हैं दर्द है
Sangeeta Beniwal
मेरे पूर्ण मे आधा व आधे मे पुर्ण अहसास हो
मेरे पूर्ण मे आधा व आधे मे पुर्ण अहसास हो
Anil chobisa
बाल कविता: चिड़िया आयी
बाल कविता: चिड़िया आयी
Rajesh Kumar Arjun
🌹जिन्दगी🌹
🌹जिन्दगी🌹
Dr Shweta sood
क्यू ना वो खुदकी सुने?
क्यू ना वो खुदकी सुने?
Kanchan Alok Malu
हाँ, वह लड़की ऐसी थी
हाँ, वह लड़की ऐसी थी
gurudeenverma198
नरक और स्वर्ग
नरक और स्वर्ग
Dr. Pradeep Kumar Sharma
मतदान
मतदान
Kanchan Khanna
पग न अब पीछे मुड़ेंगे...
पग न अब पीछे मुड़ेंगे...
डॉ.सीमा अग्रवाल
💐प्रेम कौतुक-421💐
💐प्रेम कौतुक-421💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
प्रकृति वर्णन – बच्चों के लिये एक कविता धरा दिवस के लिए
प्रकृति वर्णन – बच्चों के लिये एक कविता धरा दिवस के लिए
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
खुशी के माहौल में दिल उदास क्यों है,
खुशी के माहौल में दिल उदास क्यों है,
कवि दीपक बवेजा
मेरी जिंदगी में जख्म लिखे हैं बहुत
मेरी जिंदगी में जख्म लिखे हैं बहुत
Dr. Man Mohan Krishna
मंजिल की तलाश में
मंजिल की तलाश में
Praveen Sain
मुझे वास्तविकता का ज्ञान नही
मुझे वास्तविकता का ज्ञान नही
Keshav kishor Kumar
*करिश्मा है ये कुदरत का, हमें मौसम बताता है (मुक्तक)*
*करिश्मा है ये कुदरत का, हमें मौसम बताता है (मुक्तक)*
Ravi Prakash
पद्मावती छंद
पद्मावती छंद
Subhash Singhai
रूप कुदरत का
रूप कुदरत का
surenderpal vaidya
जिंदगी की फितरत
जिंदगी की फितरत
Amit Pathak
Finding someone to love us in such a way is rare,
Finding someone to love us in such a way is rare,
पूर्वार्थ
मैं दोस्तों से हाथ मिलाने में रह गया कैसे ।
मैं दोस्तों से हाथ मिलाने में रह गया कैसे ।
Neelam Sharma
जिसने भी तुमको देखा है पहली बार ..
जिसने भी तुमको देखा है पहली बार ..
Tarun Garg
जिंदगी एडजस्टमेंट से ही चलती है / Vishnu Nagar
जिंदगी एडजस्टमेंट से ही चलती है / Vishnu Nagar
Dr MusafiR BaithA
शिव का सरासन  तोड़  रक्षक हैं  बने  श्रित मान की।
शिव का सरासन तोड़ रक्षक हैं बने श्रित मान की।
संजीव शुक्ल 'सचिन'
ग़ज़ल
ग़ज़ल
ईश्वर दयाल गोस्वामी
देह धरे का दण्ड यह,
देह धरे का दण्ड यह,
महेश चन्द्र त्रिपाठी
गजल
गजल
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
कांतिपति का चुनाव-रथ
कांतिपति का चुनाव-रथ
नंदलाल सिंह 'कांतिपति'
हिन्दी ग़ज़़लकारों की अंधी रति + रमेशराज
हिन्दी ग़ज़़लकारों की अंधी रति + रमेशराज
कवि रमेशराज
Loading...