Oct 19, 2016 · 1 min read

जीवन साथी

जीवन साथी

जीवन का सबसे अनमोल रतन ,
जन्म से नाता न होकर भी
है कितना उसमें अपनापन ।
अपने सुख दुख जिससे बाँट सके
मन की उलझन सब सुलझा सके ,
जीवन के उतार चढ़ावों का
निज जीवन में आए तूफानों का
सिर्फ वही साक्षी है प्रत्यक्ष ।
जीवन का सबसे अनमोल रतन ।
ऐसा अनमोल उपहार है वो
जिस पर जरा आघात भी हो
वह आघात स्वयं पर लगता है
जब कुछ पल को भी वो
कहीं करे गमन ,
रिक्त हो जाते हैं ये
मन और सदन ।
जीवन का सबसे अनमोल रतन ।
चाहे कितना वाद विवाद करें
फिर भी एक दूजे से ही
फरियाद करें ,
ये ही एक ऐसा रिश्ता है
जिसने साथ निभाने को
लिए हैं अमूल्य सात वचन ।
जीवन का सबसे अनमोल रतन ।

डॉ रीता
आया नगर , नई दिल्ली- 47

412 Views
You may also like:
आखरी उत्तराधिकारी
Prabhudayal Raniwal
मैं भारत हूँ
Dr. Sunita Singh
कोई तो हद होगी।
Taj Mohammad
इलाहाबाद आयें हैं , इलाहाबाद आये हैं.....अज़ल
लवकुश यादव "अज़ल"
आपातकाल
Shriyansh Gupta
पानी यौवन मूल
Jatashankar Prajapati
हे परम पिता परमेश्वर, जग को बनाने वाले
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
मनुज से कुत्ते कुछ अच्छे।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
पिता एक विश्वास - डी के निवातिया
डी. के. निवातिया
*कलम शतक* :कवि कल्याण कुमार जैन शशि
Ravi Prakash
मातृ रूप
श्री रमण
'आप नहीं आएंगे अब पापा'
alkaagarwal.ag
सत् हंसवाहनी वर दे,
Pt. Brajesh Kumar Nayak
कन्यादान क्यों और किसलिए [भाग ७]
Anamika Singh
🌻🌻🌸"इतना क्यों बहका रहे हो,अपने अन्दाज पर"🌻🌻🌸
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
💐 ग़ुरूर मिट जाएगा💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
"साहित्यकार भी गुमनाम होता है"
Ajit Kumar "Karn"
कन्यादान क्यों और किसलिए [भाग८]
Anamika Singh
मेरे हाथो में सदा... तेरा हाथ हो..
Dr. Alpa H.
मुस्कुराहटों के मूल्य
Saraswati Bajpai
मां
Dr. Rajeev Jain
प्रकृति का उपहार
Anamika Singh
हिन्दी थिएटर के प्रमुख हस्ताक्षर श्री पंकज एस. दयाल जी...
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
मम्मी म़ुझको दुलरा जाओ..
Rashmi Sanjay
पानी कहे पुकार
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
Accept the mistake
Buddha Prakash
इश्क था मेरा।
Taj Mohammad
धार्मिक उन्माद
Rakesh Pathak Kathara
"ममता" (तीन कुण्डलिया छन्द)
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
बंदर मामा गए ससुराल
Manu Vashistha
Loading...