Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
5 Jun 2023 · 1 min read

जीवन का लक्ष्य महान

डरावने जंगल नहीं होते
डरावना लोगों का कृत्य
जंगलों को काटने में जुटे
रहते बहुत से लोग नित्य
स्वार्थ वश वो कर रहे हैं
प्रकृति का सर्वथा नाश
जंगलों के सफाए वो मान
बैठे हैं मानव का विकास
भूल गए कि पेड़ पौधे देते
हैं उन्हें आक्सीजन भरपूर
जिंदगी को खुशहाल रखने
में पेड़ों की भूमिका भरपूर
हे ईश्वर मनुष्यों को दीजिए
सन्मति का ऐसा दिव्य दान
पेड़ पौधों को रोपने को मानें
अपने जीवन का लक्ष्य महान

Language: Hindi
443 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
कुछ इस लिए भी आज वो मुझ पर बरस पड़ा
कुछ इस लिए भी आज वो मुझ पर बरस पड़ा
Aadarsh Dubey
वक्त
वक्त
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
प्रेरणा गीत (सूरज सा होना मुश्किल पर......)
प्रेरणा गीत (सूरज सा होना मुश्किल पर......)
अनिल कुमार निश्छल
करुणा का भाव
करुणा का भाव
shekhar kharadi
*सोना-चॉंदी कह रहे, जो अक्षय भंडार (कुंडलिया)*
*सोना-चॉंदी कह रहे, जो अक्षय भंडार (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
गाछ सभक लेल
गाछ सभक लेल
DrLakshman Jha Parimal
हाइकु (#मैथिली_भाषा)
हाइकु (#मैथिली_भाषा)
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
कितने चेहरे मुझे उदास दिखे
कितने चेहरे मुझे उदास दिखे
Shweta Soni
जादुई गज़लों का असर पड़ा है तेरी हसीं निगाहों पर,
जादुई गज़लों का असर पड़ा है तेरी हसीं निगाहों पर,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
प्यार का नाम मेरे दिल से मिटाया तूने।
प्यार का नाम मेरे दिल से मिटाया तूने।
Phool gufran
सुख मेरा..!
सुख मेरा..!
Hanuman Ramawat
1B_ वक्त की ही बात है
1B_ वक्त की ही बात है
Kshma Urmila
ग़म
ग़म
Harminder Kaur
हिन्दी दोहा शब्द- फूल
हिन्दी दोहा शब्द- फूल
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
हमें उम्र ने नहीं हालात ने बड़ा किया है।
हमें उम्र ने नहीं हालात ने बड़ा किया है।
Kavi Devendra Sharma
इंसान बनने के लिए
इंसान बनने के लिए
Mamta Singh Devaa
स्कूल जाना है
स्कूल जाना है
SHAMA PARVEEN
राम बनना कठिन है
राम बनना कठिन है
Satish Srijan
"दस ढीठों ने ताक़त दे दी,
*Author प्रणय प्रभात*
किसान
किसान
Dinesh Kumar Gangwar
एक ज़माना था .....
एक ज़माना था .....
Nitesh Shah
Under this naked sky, I wish to hold you in my arms tight.
Under this naked sky, I wish to hold you in my arms tight.
Manisha Manjari
गमछा जरूरी हs, जब गर्द होला
गमछा जरूरी हs, जब गर्द होला
नंदलाल सिंह 'कांतिपति'
!!! भिंड भ्रमण की झलकियां !!!
!!! भिंड भ्रमण की झलकियां !!!
जगदीश लववंशी
कर लो कर्म अभी
कर लो कर्म अभी
Sonam Puneet Dubey
जीवन में ख़ुशी
जीवन में ख़ुशी
Dr fauzia Naseem shad
कांतिमय यौवन की छाया
कांतिमय यौवन की छाया
Mrs PUSHPA SHARMA {पुष्पा शर्मा अपराजिता}
3379⚘ *पूर्णिका* ⚘
3379⚘ *पूर्णिका* ⚘
Dr.Khedu Bharti
लाख बड़ा हो वजूद दुनियां की नजर में
लाख बड़ा हो वजूद दुनियां की नजर में
शेखर सिंह
मीठे बोल
मीठे बोल
Sanjay ' शून्य'
Loading...