Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
14 Jan 2024 · 1 min read

जीवन उत्साह

36 की उम्र तक आते-आते
36 सौ जगह घुमा
36 सौ प्यार मिला
36 सौ से 36 के आंकड़े रहे
36सौ उतार चढ़ाव आए
36 सौ अवसर आए
36 सौ दिन गुजर
36 सौ रातें गुजरी
36 सौ सुनहरे सपने
36 सौ बार आंखों ने देखे
36 सौ बार हार के जीते
36 सौ बार जीत कर हारे
36 सौ कोशिश जारी रखी
36 सौ कामयाब हुए
पर अपने दृष्टी में जो सृष्टि के प्रति दृष्टिकोण बनाया है
उसमें अडिग है
हम नीर धरा के
हम ही क्षितिज है
हम हैं बसंत
और हम ही पतझड़ है
हम हैं उमंग
और हम ही गम है
हम हैं तरंग
और हम ही उत्सव है
सुशील मिश्रा( क्षितिज राज )

104 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
View all
You may also like:
*वो मेरी जान, मुझे बहुत याद आती है(जेल से)*
*वो मेरी जान, मुझे बहुत याद आती है(जेल से)*
Dushyant Kumar
लड़कियां क्रीम पाउडर लगाकर खुद तो गोरी हो जाएंगी
लड़कियां क्रीम पाउडर लगाकर खुद तो गोरी हो जाएंगी
शेखर सिंह
बस एक गलती
बस एक गलती
Vishal babu (vishu)
जीवन आसान नहीं है...
जीवन आसान नहीं है...
Ashish Morya
राम रावण युद्ध
राम रावण युद्ध
Kanchan verma
वो दिखाते हैं पथ यात्रा
वो दिखाते हैं पथ यात्रा
प्रकाश
लेकिन क्यों
लेकिन क्यों
Dinesh Kumar Gangwar
कैलाशा
कैलाशा
Dr.Pratibha Prakash
रोशनी का पेड़
रोशनी का पेड़
Kshma Urmila
''आशा' के मुक्तक
''आशा' के मुक्तक"
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
अष्टम कन्या पूजन करें,
अष्टम कन्या पूजन करें,
Neelam Sharma
मिली पात्रता से अधिक, पचे नहीं सौगात।
मिली पात्रता से अधिक, पचे नहीं सौगात।
डॉ.सीमा अग्रवाल
पेट मे भीषण मरोड़ के
पेट मे भीषण मरोड़ के
*Author प्रणय प्रभात*
"नंगे पाँव"
Pushpraj Anant
मुस्कुरा देने से खुशी नहीं होती, उम्र विदा देने से जिंदगी नह
मुस्कुरा देने से खुशी नहीं होती, उम्र विदा देने से जिंदगी नह
Slok maurya "umang"
चुगलखोरों और जासूसो की सभा में गूंगे बना रहना ही बुद्धिमत्ता
चुगलखोरों और जासूसो की सभा में गूंगे बना रहना ही बुद्धिमत्ता
Rj Anand Prajapati
मां
मां
Sanjay ' शून्य'
जो भक्त महादेव का,
जो भक्त महादेव का,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
*😊 झूठी मुस्कान 😊*
*😊 झूठी मुस्कान 😊*
प्रजापति कमलेश बाबू
" लहर लहर लहराई तिरंगा "
Chunnu Lal Gupta
"ममतामयी मिनीमाता"
Dr. Kishan tandon kranti
आंसुओं के समंदर
आंसुओं के समंदर
अरशद रसूल बदायूंनी
।। मतदान करो ।।
।। मतदान करो ।।
Shivkumar barman
*सुबह-सुबह अच्छा लगता है, रोजाना अखबार (गीत)*
*सुबह-सुबह अच्छा लगता है, रोजाना अखबार (गीत)*
Ravi Prakash
पुश्तैनी दौलत
पुश्तैनी दौलत
Satish Srijan
एहसास के रिश्तों में
एहसास के रिश्तों में
Dr fauzia Naseem shad
23/09.छत्तीसगढ़ी पूर्णिका
23/09.छत्तीसगढ़ी पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
संबंधों के पुल के नीचे जब,
संबंधों के पुल के नीचे जब,
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
जला दो दीपक कर दो रौशनी
जला दो दीपक कर दो रौशनी
Sandeep Kumar
दुनिया
दुनिया
Jagannath Prajapati
Loading...