Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
22 Sep 2023 · 1 min read

-जीना यूं

-जीना यूं

सुगंधमय सुमन से भरे हो अंतर्मन बाग
जब बिन द्वेष, ईर्ष्या का हो दिल राग।
निर्मल उज्ज्वल स्वच्छ श्वेत हो दिमाग
फिर खुशियां फैला देगा तन-मन राग।
सबके मन संग सुर-ताल मिलाकर
अखंड आत्मभाव असीम उर लाकर
परोपकार श्रृद्धा समभाव दिखाकर
महाविभूति सहानुभूति दयाप्रवाहकर।
रहो न मदांध तुच्छ वित्त सेअभिमान कर
अपने सब,स्वयंभू हर सब के पिता जानकर
जीना यूं ,कोई भुला ना पाएं तुम्हें अपना मानकर
– सीमा गुप्ता, अलवर राजस्थान

1 Like · 663 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
“तब्दीलियां” ग़ज़ल
“तब्दीलियां” ग़ज़ल
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
बेटी की बिदाई ✍️✍️
बेटी की बिदाई ✍️✍️
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
बदलती दुनिया
बदलती दुनिया
साहित्य गौरव
क्या अब भी किसी पे, इतना बिखरती हों क्या ?
क्या अब भी किसी पे, इतना बिखरती हों क्या ?
The_dk_poetry
मेरी बेटी
मेरी बेटी
लक्ष्मी सिंह
सच
सच
Sanjeev Kumar mishra
"बूढ़ा" तो एक दिन
*Author प्रणय प्रभात*
प्यासा मन
प्यासा मन
नेताम आर सी
"दुबराज"
Dr. Kishan tandon kranti
"सुप्रभात"
Yogendra Chaturwedi
जिस भी समाज में भीष्म को निशस्त्र करने के लिए शकुनियों का प्
जिस भी समाज में भीष्म को निशस्त्र करने के लिए शकुनियों का प्
Sanjay ' शून्य'
यशस्वी भव
यशस्वी भव
मनोज कर्ण
सच और सोच
सच और सोच
Neeraj Agarwal
*गृहस्थी का मजा तब है, कि जब तकरार हो थोड़ी【मुक्तक 】*
*गृहस्थी का मजा तब है, कि जब तकरार हो थोड़ी【मुक्तक 】*
Ravi Prakash
अपना...❤❤❤
अपना...❤❤❤
Vishal babu (vishu)
#Om
#Om
Ankita Patel
★बादल★
★बादल★
★ IPS KAMAL THAKUR ★
सब्र रख
सब्र रख
VINOD CHAUHAN
#लाश_पर_अभिलाष_की_बंसी_सुखद_कैसे_बजाएं?
#लाश_पर_अभिलाष_की_बंसी_सुखद_कैसे_बजाएं?
संजीव शुक्ल 'सचिन'
"ये दृश्य बदल जाएगा.."
MSW Sunil SainiCENA
💐प्रेम कौतुक-413💐
💐प्रेम कौतुक-413💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
कोशिशें हमने करके देखी हैं
कोशिशें हमने करके देखी हैं
Dr fauzia Naseem shad
विकटता और मित्रता
विकटता और मित्रता
Astuti Kumari
मजदूरों के साथ
मजदूरों के साथ
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
// स्वर सम्राट मुकेश जन्म शती वर्ष //
// स्वर सम्राट मुकेश जन्म शती वर्ष //
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
Miracles in life are done by those who had no other
Miracles in life are done by those who had no other "options
Nupur Pathak
सुनो पहाड़ की....!!! (भाग - १०)
सुनो पहाड़ की....!!! (भाग - १०)
Kanchan Khanna
माँ वीणा वरदायिनी, बनकर चंचल भोर ।
माँ वीणा वरदायिनी, बनकर चंचल भोर ।
जगदीश शर्मा सहज
तस्वीर देख कर सिहर उठा था मन, सत्य मरता रहा और झूठ मारता रहा…
तस्वीर देख कर सिहर उठा था मन, सत्य मरता रहा और झूठ मारता रहा…
Anand Kumar
शब्द उनके बहुत नुकीले हैं
शब्द उनके बहुत नुकीले हैं
Dr Archana Gupta
Loading...