Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
28 Nov 2023 · 1 min read

जिसे सुनके सभी झूमें लबों से गुनगुनाएँ भी

जिसे सुनके सभी झूमें लबों से गुनगुनाएँ भी
लबालब वो मुहब्बत का तराना छोड़ दो अब तो

आर. एस. ‘प्रीतम’

1 Like · 600 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from आर.एस. 'प्रीतम'
View all
You may also like:
अहसान का दे रहा हूं सिला
अहसान का दे रहा हूं सिला
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
"प्यासा"-हुनर
Vijay kumar Pandey
*खो दिया सुख चैन तेरी चाह मे*
*खो दिया सुख चैन तेरी चाह मे*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
पाँच सितारा, डूबा तारा
पाँच सितारा, डूबा तारा
Manju Singh
पुण्यधरा का स्पर्श कर रही, स्वर्ण रश्मियां।
पुण्यधरा का स्पर्श कर रही, स्वर्ण रश्मियां।
surenderpal vaidya
इंडियन टाइम
इंडियन टाइम
Dr. Pradeep Kumar Sharma
व्हाट्सएप युग का प्रेम
व्हाट्सएप युग का प्रेम
Shaily
जब भी तेरा दिल में ख्याल आता है
जब भी तेरा दिल में ख्याल आता है
Ram Krishan Rastogi
जिसकी फितरत वक़्त ने, बदल दी थी कभी, वो हौसला अब क़िस्मत, से टकराने लगा है।
जिसकी फितरत वक़्त ने, बदल दी थी कभी, वो हौसला अब क़िस्मत, से टकराने लगा है।
Manisha Manjari
मुक़द्दस पाक यह जामा,
मुक़द्दस पाक यह जामा,
Satish Srijan
बड़ी अजब है जिंदगी,
बड़ी अजब है जिंदगी,
sushil sarna
इतना मत इठलाया कर इस जवानी पर
इतना मत इठलाया कर इस जवानी पर
Keshav kishor Kumar
माना अपनी पहुंच नहीं है
माना अपनी पहुंच नहीं है
महेश चन्द्र त्रिपाठी
23/01.छत्तीसगढ़ी पूर्णिका
23/01.छत्तीसगढ़ी पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
*।।ॐ।।*
*।।ॐ।।*
Satyaveer vaishnav
बढ़े चलो तुम हिम्मत करके, मत देना तुम पथ को छोड़ l
बढ़े चलो तुम हिम्मत करके, मत देना तुम पथ को छोड़ l
Shyamsingh Lodhi (Tejpuriya)
चलते चलते
चलते चलते
ruby kumari
अधूरी हसरतें
अधूरी हसरतें
Surinder blackpen
संगीत........... जीवन हैं
संगीत........... जीवन हैं
Neeraj Agarwal
सरसी छंद
सरसी छंद
Charu Mitra
मैं शायर तो नहीं था
मैं शायर तो नहीं था
Shekhar Chandra Mitra
कोरोना काल
कोरोना काल
Sandeep Pande
*रामपुर की गाँधी समाधि (तीन कुंडलियाँ)*
*रामपुर की गाँधी समाधि (तीन कुंडलियाँ)*
Ravi Prakash
सेर
सेर
सूरज राम आदित्य (Suraj Ram Aditya)
💐प्रेम कौतुक-557💐
💐प्रेम कौतुक-557💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
इश्क़ का फ़लसफ़ा
इश्क़ का फ़लसफ़ा
*Author प्रणय प्रभात*
" पलास "
Pushpraj Anant
उसने कौन से जन्म का हिसाब चुकता किया है
उसने कौन से जन्म का हिसाब चुकता किया है
कवि दीपक बवेजा
दुआ
दुआ
Dr Parveen Thakur
सुनाऊँ प्यार की सरग़म सुनो तो चैन आ जाए
सुनाऊँ प्यार की सरग़म सुनो तो चैन आ जाए
आर.एस. 'प्रीतम'
Loading...