जिन्दगी के संग सेल्फी

जिन्दगीके संग सेल्फी
*********

थोडा सा मुस्कुरा ज़िन्दगी
तेरे संग एक सेल्फी लेनी है

ग़मों को दरकिनार कर
ज़रा जीत का जश्न मना
थोडा सा हँस ज़िन्दगी
तेरे संग एक सेल्फी लेनी है

घडी के कांटे भाग रहे हैं
तू भी थोड़ी सी दौड़ लगा
ज़रा होंठ गोल कर ज़िन्दगी
तेरे संग एक सेल्फी लेनी है

लिबास बदल रंगीन हो जा
खुद को बदल हसीन हो जा
जीभ निकाल के चिढ़ा ज़िन्दगी
तेरे संग एक सेल्फी लेनी हैं

“सन्दीप कुमार”

736 Views
You may also like:
चार काँधे हों मयस्सर......
अश्क चिरैयाकोटी
चिंता और चिता
VINOD KUMAR CHAUHAN
किस्मत एक ताना...
Sapna K S
जंगल में एक बंदर आया
VINOD KUMAR CHAUHAN
जेब में सरकार लिए फिरते हैं
VINOD KUMAR CHAUHAN
काश बचपन लौट आता
Anamika Singh
सट्टेबाज़ों से
Suraj Kushwaha
ज़ुबान से फिर गया नज़र के सामने
कुमार अविनाश केसर
"सुकून की तलाश"
Ajit Kumar "Karn"
इस शहर में
Shriyansh Gupta
सरकारी निजीकरण।
Taj Mohammad
सब्जी की टोकरी
Buddha Prakash
पिता आदर्श नायक हमारे
Buddha Prakash
नई तकदीर
मनोज कर्ण
चंदा मामा बाल कविता
Ram Krishan Rastogi
धार्मिक उन्माद
Rakesh Pathak Kathara
दो बिल्लियों की लड़ाई (हास्य कविता)
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
पंचशील गीत
Buddha Prakash
और कितना धैर्य धरू
Anamika Singh
'तुम भी ना'
Rashmi Sanjay
!?! सावधान कोरोना स्लोगन !?!
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
दुर्योधन कब मिट पाया:भाग:35
AJAY AMITABH SUMAN
परिस्थितियों के आगे न झुकना।
Anamika Singh
नींबू की चाह
Ram Krishan Rastogi
*पुस्तक का नाम : अँजुरी भर गीत* (पुस्तक समीक्षा)
Ravi Prakash
बड़ा भाई बोल रहा हूं
Satpallm1978 Chauhan
रफ़्तार के लिए (ghazal by Vinit Singh Shayar)
Vinit Singh
छलके जो तेरी अखियाँ....
Dr. Alpa H.
त्रिशरण गीत
Buddha Prakash
"सूखा गुलाब का फूल"
Ajit Kumar "Karn"
Loading...