Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
10 Feb 2024 · 1 min read

जाने क्यूं मुझ पर से

जाने क्यूं मुझ पर से
तेरा असर जाता हीं नहीं,
घायल मन का बोझिल दर्द
किसी भी पल जाता हीं नहीं।

✍️लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा

93 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
फ़लसफ़ा है जिंदगी का मुस्कुराते जाना।
फ़लसफ़ा है जिंदगी का मुस्कुराते जाना।
Manisha Manjari
खुदा को ढूँढा दैरो -हरम में
खुदा को ढूँढा दैरो -हरम में
shabina. Naaz
लोग कह रहे हैं राजनीति का चरित्र बिगड़ गया है…
लोग कह रहे हैं राजनीति का चरित्र बिगड़ गया है…
Anand Kumar
एक फूल....
एक फूल....
Awadhesh Kumar Singh
बन गए हम तुम्हारी याद में, कबीर सिंह
बन गए हम तुम्हारी याद में, कबीर सिंह
The_dk_poetry
आसान नहीं होता घर से होस्टल जाना
आसान नहीं होता घर से होस्टल जाना
Sandhya Chaturvedi(काव्यसंध्या)
वो अपनी जिंदगी में गुनहगार समझती है मुझे ।
वो अपनी जिंदगी में गुनहगार समझती है मुझे ।
शिव प्रताप लोधी
कुछ बात थी
कुछ बात थी
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
दोहा
दोहा
गुमनाम 'बाबा'
प्रतीक्षा अहिल्या की.......
प्रतीक्षा अहिल्या की.......
पं अंजू पांडेय अश्रु
मुक्तक
मुक्तक
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
रचो महोत्सव
रचो महोत्सव
लक्ष्मी सिंह
*अदृश्य पंख बादल के* (10 of 25 )
*अदृश्य पंख बादल के* (10 of 25 )
Kshma Urmila
न जमीन रखता हूँ न आसमान रखता हूँ
न जमीन रखता हूँ न आसमान रखता हूँ
VINOD CHAUHAN
कारगिल युद्ध फतह दिवस
कारगिल युद्ध फतह दिवस
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
*चलो टहलने चलें पार्क में, घर से सब नर-नारी【गीत】*
*चलो टहलने चलें पार्क में, घर से सब नर-नारी【गीत】*
Ravi Prakash
जिंदगी का सफर
जिंदगी का सफर
Dr. Pradeep Kumar Sharma
ना जाने क्यों...?
ना जाने क्यों...?
भवेश
दानवता की पोषक
दानवता की पोषक
*Author प्रणय प्रभात*
दिखता नही किसी को
दिखता नही किसी को
Dr. Rajendra Singh 'Rahi'
आप जब खुद को
आप जब खुद को
Dr fauzia Naseem shad
सरकारी
सरकारी
Lalit Singh thakur
हम वह मिले तो हाथ मिलाया
हम वह मिले तो हाथ मिलाया
gurudeenverma198
* मन में उभरे हुए हर सवाल जवाब और कही भी नही,,
* मन में उभरे हुए हर सवाल जवाब और कही भी नही,,
Vicky Purohit
3016.*पूर्णिका*
3016.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
सुहागन की अभिलाषा🙏
सुहागन की अभिलाषा🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
कहानी। सेवानिवृति
कहानी। सेवानिवृति
मधुसूदन गौतम
प्रेम अंधा होता है मां बाप नहीं
प्रेम अंधा होता है मां बाप नहीं
Manoj Mahato
// अमर शहीद चन्द्रशेखर आज़ाद //
// अमर शहीद चन्द्रशेखर आज़ाद //
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
" एकता "
DrLakshman Jha Parimal
Loading...