Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
18 Jun 2023 · 1 min read

*जाओ ले संदेश शुभ ,प्रियतम पास कपोत (कुंडलिया)*

जाओ ले संदेश शुभ ,प्रियतम पास कपोत (कुंडलिया)
________________________________
जाओ ले संदेश शुभ ,प्रियतम पास कपोत
उनसे कहना प्रेम का , वर्षा मधुरिम स्रोत
वर्षा मधुरिम स्रोत , व्योम में बादल छाते
घिरती दिन में रात ,मस्त सब मन हो जाते
कहते रवि कविराय ,प्रिये अब तुम भी आओ
झूलें हम – तुम साथ ,नहीं फिर आकर जाओ
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
कपोत = कबूतर
व्योम = आसमान
_______________________________
रचयिता : रवि प्रकाश
बाजार सर्राफा, रामपुर (उत्तर प्रदेश)
मोबाइल 99976 15451

418 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Ravi Prakash
View all
You may also like:
आईना अब भी मुझसे
आईना अब भी मुझसे
Satish Srijan
NeelPadam
NeelPadam
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
पेड़ लगाओ तुम ....
पेड़ लगाओ तुम ....
जगदीश लववंशी
रौशनी को राजमहलों से निकाला चाहिये
रौशनी को राजमहलों से निकाला चाहिये
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
फागुन
फागुन
Punam Pande
माँ आओ मेरे द्वार
माँ आओ मेरे द्वार
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
निराकार परब्रह्म
निराकार परब्रह्म
भवानी सिंह धानका 'भूधर'
महकती रात सी है जिंदगी आंखों में निकली जाय।
महकती रात सी है जिंदगी आंखों में निकली जाय।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
*वो मेरी जान, मुझे बहुत याद आती है(जेल से)*
*वो मेरी जान, मुझे बहुत याद आती है(जेल से)*
Dushyant Kumar
यादों की किताब पर खिताब
यादों की किताब पर खिताब
Mahender Singh
नेता सोये चैन से,
नेता सोये चैन से,
sushil sarna
गहरे ध्यान में चले गए हैं,पूछताछ से बचकर।
गहरे ध्यान में चले गए हैं,पूछताछ से बचकर।
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
😢साहित्यपीडिया😢
😢साहित्यपीडिया😢
*Author प्रणय प्रभात*
लगा चोट गहरा
लगा चोट गहरा
Basant Bhagawan Roy
जिज्ञासा
जिज्ञासा
Dr. Harvinder Singh Bakshi
संस्कारधर्मी न्याय तुला पर
संस्कारधर्मी न्याय तुला पर
Dr MusafiR BaithA
इश्क़ एक सबब था मेरी ज़िन्दगी मे,
इश्क़ एक सबब था मेरी ज़िन्दगी मे,
पूर्वार्थ
हिंदी भाषा हमारी आन बान शान...
हिंदी भाषा हमारी आन बान शान...
Harminder Kaur
एहसास
एहसास
Er.Navaneet R Shandily
शब्द
शब्द
ओंकार मिश्र
*बिन बुलाए आ जाता है सवाल नहीं करता.!!*
*बिन बुलाए आ जाता है सवाल नहीं करता.!!*
AVINASH (Avi...) MEHRA
चिंगारी बन लड़ा नहीं जो
चिंगारी बन लड़ा नहीं जो
AJAY AMITABH SUMAN
प्रभु की लीला प्रभु जाने, या जाने करतार l
प्रभु की लीला प्रभु जाने, या जाने करतार l
Shyamsingh Lodhi (Tejpuriya)
ज़ब ज़ब जिंदगी समंदर मे गिरती है
ज़ब ज़ब जिंदगी समंदर मे गिरती है
शेखर सिंह
2438.पूर्णिका
2438.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
हिन्दी दिवस
हिन्दी दिवस
Neeraj Agarwal
लौट आयी स्वीटी
लौट आयी स्वीटी
Kanchan Khanna
आओ नया निर्माण करें
आओ नया निर्माण करें
Vishnu Prasad 'panchotiya'
भीनी भीनी आ रही सुवास है।
भीनी भीनी आ रही सुवास है।
Omee Bhargava
चाय सिर्फ चीनी और चायपत्ती का मेल नहीं
चाय सिर्फ चीनी और चायपत्ती का मेल नहीं
Charu Mitra
Loading...