Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
15 Feb 2024 · 1 min read

ज़िंदगी को मैंने अपनी ऐसे संजोया है

ज़िंदगी को मैंने अपनी ऐसे संजोया है
माला में मोती जैसे फिर से पिरोया है
गुजरे हुए लम्हों को मैंने समेटकर
खुद को मैंने अश्क़ों के समुंदर मे डुबोया है

1 Like · 107 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
वृद्धाश्रम इस समस्या का
वृद्धाश्रम इस समस्या का
Dr fauzia Naseem shad
एक दिन मजदूरी को, देते हो खैरात।
एक दिन मजदूरी को, देते हो खैरात।
Manoj Mahato
ख़ुद को हमने निकाल रखा है
ख़ुद को हमने निकाल रखा है
Mahendra Narayan
यारा ग़म नहीं अब किसी बात का।
यारा ग़म नहीं अब किसी बात का।
rajeev ranjan
शीर्षक – रेल्वे फाटक
शीर्षक – रेल्वे फाटक
Sonam Puneet Dubey
फूल और कांटे
फूल और कांटे
अखिलेश 'अखिल'
युद्ध
युद्ध
Dr.Priya Soni Khare
एकाकीपन
एकाकीपन
लक्ष्मी सिंह
नया युग
नया युग
Anil chobisa
दशरथ माँझी संग हाइकु / मुसाफ़िर बैठा
दशरथ माँझी संग हाइकु / मुसाफ़िर बैठा
Dr MusafiR BaithA
उसके नाम के 4 हर्फ़ मेरे नाम में भी आती है
उसके नाम के 4 हर्फ़ मेरे नाम में भी आती है
Madhuyanka Raj
कारण कोई बतायेगा
कारण कोई बतायेगा
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
हरि लापता है, ख़ुदा लापता है
हरि लापता है, ख़ुदा लापता है
Artist Sudhir Singh (सुधीरा)
*बाल गीत (मेरा प्यारा मीत )*
*बाल गीत (मेरा प्यारा मीत )*
Rituraj shivem verma
रोजाना आने लगे , बादल अब घनघोर (कुंडलिया)
रोजाना आने लगे , बादल अब घनघोर (कुंडलिया)
Ravi Prakash
यूं हाथ खाली थे मेरे, शहर में तेरे आते जाते,
यूं हाथ खाली थे मेरे, शहर में तेरे आते जाते,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
......तु कोन है मेरे लिए....
......तु कोन है मेरे लिए....
Naushaba Suriya
हे मनुज श्रेष्ठ
हे मनुज श्रेष्ठ
Dr.Pratibha Prakash
मौसम....
मौसम....
sushil yadav
सफलता
सफलता
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
चालें बहुत शतरंज की
चालें बहुत शतरंज की
surenderpal vaidya
"अब के चुनाव"
*Author प्रणय प्रभात*
" माँ का आँचल "
DESH RAJ
६४बां बसंत
६४बां बसंत
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
फिर मिलेंगें
फिर मिलेंगें
साहित्य गौरव
हिन्दू एकता
हिन्दू एकता
विजय कुमार अग्रवाल
*** भाग्यविधाता ***
*** भाग्यविधाता ***
Chunnu Lal Gupta
23/08.छत्तीसगढ़ी पूर्णिका
23/08.छत्तीसगढ़ी पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
" मैं "
Dr. Kishan tandon kranti
You lived through it, you learned from it, now it's time to
You lived through it, you learned from it, now it's time to
Mrs PUSHPA SHARMA {पुष्पा शर्मा अपराजिता}
Loading...