Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
3 Feb 2024 · 1 min read

ज़िंदगी तेरी हद

शुरू होती ख़त्म जहां से है ।
ज़िन्दगी तेरी हद कहां से है ।।
डाॅ फौज़िया नसीम शाद

Language: Hindi
Tag: शेर
3 Likes · 92 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr fauzia Naseem shad
View all
You may also like:
.......... मैं चुप हूं......
.......... मैं चुप हूं......
Naushaba Suriya
सृजन के जन्मदिन पर
सृजन के जन्मदिन पर
Satish Srijan
👍👍
👍👍
*Author प्रणय प्रभात*
फंस गया हूं तेरी जुल्फों के चक्रव्यूह मैं
फंस गया हूं तेरी जुल्फों के चक्रव्यूह मैं
ठाकुर प्रतापसिंह "राणाजी"
मां
मां
Ankita Patel
बाल कविता : बादल
बाल कविता : बादल
Rajesh Kumar Arjun
𝕾...✍🏻
𝕾...✍🏻
पूर्वार्थ
कया बताएं 'गालिब'
कया बताएं 'गालिब'
Mr.Aksharjeet
कुछ बातें मन में रहने दो।
कुछ बातें मन में रहने दो।
surenderpal vaidya
तुझे स्पर्श न कर पाई
तुझे स्पर्श न कर पाई
Dr fauzia Naseem shad
आलोचना
आलोचना
Shekhar Chandra Mitra
बारिश
बारिश
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
अभी भी शुक्रिया साँसों का, चलता सिलसिला मालिक (मुक्तक)
अभी भी शुक्रिया साँसों का, चलता सिलसिला मालिक (मुक्तक)
Ravi Prakash
भेड़ चालों का रटन हुआ
भेड़ चालों का रटन हुआ
Vishnu Prasad 'panchotiya'
छेड़ कोई तान कोई सुर सजाले
छेड़ कोई तान कोई सुर सजाले
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
मुझे भी जीने दो (भ्रूण हत्या की कविता)
मुझे भी जीने दो (भ्रूण हत्या की कविता)
Dr. Kishan Karigar
Arj Kiya Hai...
Arj Kiya Hai...
Nitesh Kumar Srivastava
"अहमियत"
Dr. Kishan tandon kranti
"रामगढ़ की रानी अवंतीबाई लोधी"
Shyamsingh Lodhi (Tejpuriya)
जिसका इन्तजार हो उसका दीदार हो जाए,
जिसका इन्तजार हो उसका दीदार हो जाए,
डी. के. निवातिया
(21)
(21) "ऐ सहरा के कैक्टस ! *
Kishore Nigam
दोहा
दोहा
दुष्यन्त 'बाबा'
💐प्रेम कौतुक-185💐
💐प्रेम कौतुक-185💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
Rap song 【4】 - पटना तुम घुमाया
Rap song 【4】 - पटना तुम घुमाया
Nishant prakhar
जो लोग अपनी जिंदगी से संतुष्ट होते हैं वे सुकून भरी जिंदगी ज
जो लोग अपनी जिंदगी से संतुष्ट होते हैं वे सुकून भरी जिंदगी ज
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
फिर एक पल भी ना लगा ये सोचने में........
फिर एक पल भी ना लगा ये सोचने में........
shabina. Naaz
कहानी ....
कहानी ....
sushil sarna
है कौन वो
है कौन वो
DR ARUN KUMAR SHASTRI
2773. *पूर्णिका*
2773. *पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
राम और सलमान खान / मुसाफ़िर बैठा
राम और सलमान खान / मुसाफ़िर बैठा
Dr MusafiR BaithA
Loading...