Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
4 Apr 2024 · 1 min read

ज़माने पर भरोसा करने वालों, भरोसे का जमाना जा रहा है..

ज़माने पर भरोसा करने वालों, भरोसे का जमाना जा रहा है..
जहां तक मुझसे मतलब है जहां को वहां तक मुझको पूछा जा रहा है …!
यार बेमतलब कोई तो हो जिसके चेहरे पर चेहरा ना चढ़ा हो , जो मतलब के लिए नहीं दिल से सगा हो …!
यार यहां मतलब से चलते हैं दिलों के रिश्तों के कारोबार …!
काश…!!
कोई बेमतलब भी कभी हमारे साथ खड़ा हो…!
मुझे वो रिश्ते नहीं चाहिए जो सिर्फ नाम के अपने हो , दिल से अपना मानने वाले कम भी हो तो काफी है…!
मुझे हजारों का काफिला नहीं चाहिए …!
मेरी खुशी में मुस्कुराने वाला मेरे ग़म में मुझे संभालने वाला एक भी हो तो काफी है…!
और रही बात निभाने की तो निभाने वालो के बीच दूरियां और problems कभी नहीं आती …!
जिनको रिश्ता निभाना होता है हर हाल में निभा जाते हैं ..!
यहां सब नियत और विश्वास पर ही निर्भर करता है ..!
कभी पास रह कर भी एक दूसरे से दूर हो जाते हैं तो कभी दूर होकर भी साथ निभा जाते हैं…!

118 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
दिल सचमुच आनंदी मीर बना।
दिल सचमुच आनंदी मीर बना।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
🙏
🙏
Neelam Sharma
इंद्रवती
इंद्रवती
सुरेश अजगल्ले 'इन्द्र '
चन्द्र की सतह पर उतरा चन्द्रयान
चन्द्र की सतह पर उतरा चन्द्रयान
नूरफातिमा खातून नूरी
कुश्ती दंगल
कुश्ती दंगल
मनोज कर्ण
किसी का यकीन
किसी का यकीन
Dr fauzia Naseem shad
कभी अंधेरे में हम साया बना हो,
कभी अंधेरे में हम साया बना हो,
goutam shaw
3308.⚘ *पूर्णिका* ⚘
3308.⚘ *पूर्णिका* ⚘
Dr.Khedu Bharti
सुदामा कृष्ण के द्वार (1)
सुदामा कृष्ण के द्वार (1)
Vivek Ahuja
तूझे क़ैद कर रखूं ऐसा मेरी चाहत नहीं है
तूझे क़ैद कर रखूं ऐसा मेरी चाहत नहीं है
Keshav kishor Kumar
बाल कविता: नानी की बिल्ली
बाल कविता: नानी की बिल्ली
Rajesh Kumar Arjun
उपकार माईया का
उपकार माईया का
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
किराये के मकानों में
किराये के मकानों में
करन ''केसरा''
न कहर ना जहर ना शहर ना ठहर
न कहर ना जहर ना शहर ना ठहर
ठाकुर प्रतापसिंह "राणाजी"
■ कामयाबी का नुस्खा...
■ कामयाबी का नुस्खा...
*प्रणय प्रभात*
उदात्त जीवन / MUSAFIR BAITHA
उदात्त जीवन / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
जन्मदिन की शुभकामना
जन्मदिन की शुभकामना
Satish Srijan
"खासियत"
Dr. Kishan tandon kranti
पति मेरा मेरी जिंदगी का हमसफ़र है
पति मेरा मेरी जिंदगी का हमसफ़र है
VINOD CHAUHAN
"" *ईश्वर* ""
सुनीलानंद महंत
माँ अपने बेटे से कहती है :-
माँ अपने बेटे से कहती है :-
Neeraj Mishra " नीर "
दूर जाना था मुझसे तो करीब लाया क्यों
दूर जाना था मुझसे तो करीब लाया क्यों
कृष्णकांत गुर्जर
प्रतिबद्ध मन
प्रतिबद्ध मन
लक्ष्मी सिंह
*व्याख्यान : मोदी जी के 20 वर्ष*
*व्याख्यान : मोदी जी के 20 वर्ष*
Ravi Prakash
जब मैं तुमसे प्रश्न करूँगा,
जब मैं तुमसे प्रश्न करूँगा,
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
रेत पर मकान बना ही नही
रेत पर मकान बना ही नही
कवि दीपक बवेजा
~~~~~~~~~~~~~~
~~~~~~~~~~~~~~
Hanuman Ramawat
"The Dance of Joy"
Manisha Manjari
तुम्हीं रस्ता तुम्हीं मंज़िल
तुम्हीं रस्ता तुम्हीं मंज़िल
Monika Arora
तेरे दिल की आवाज़ को हम धड़कनों में छुपा लेंगे।
तेरे दिल की आवाज़ को हम धड़कनों में छुपा लेंगे।
Phool gufran
Loading...